नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार शाम लोक नायक जय प्रकाश (LNJP) अस्पताल का दौरा कर अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस (COVID-19) के मरीजों के लिए वीडियो कॉल सुविधा लॉन्च की। वीडियो कॉल सुविधा शुरू होने के बाद अब मरीज अपने रिश्तेदारों से बात कर सकेंगे।

इस दौरान अरविंद केजरीवाल कहा कि आज LNJP अस्पताल को कोरोना के मरीजों का इलाज करते हुए 100 दिन पूरे हो गए हैं। दिल्ली का यह ऐसा पहला अस्पताल है जिसे कोविड अस्पताल घोषित किया गया था। एक दिक्कत आ रही थी कि जब मरीज अंदर हैं तो बाहर रिश्तेदार उनसे बात नहीं कर पाते थे, आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग शुरू की है।

जानकारी के अनुसार, कोरोना वार्ड में मरीज के साथ कोई भी अटेंडेंट अंदर नहीं जा सकते, इस वजह से रिश्तेदारों का मरीजों से बात कर पाना मुश्किल हो गया था। आज पहली बार इस सेवा को आजमाया गया। इसकी शुरुआत के मौके पर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने न सिर्फ मरीजों से, बल्कि कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टरों से भी वीडियो कॉल पर बात की।

केजरीवाल ने कहा कि जैसे देश की सीमा पर हमारे जवान चीनी सेना से लड़ रहे हैं वैसे ही हमारे डॉक्टर भी चीन से भेजे हुए कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि LNJP अस्पताल के ICU में IIT दिल्ली के सुशांत जी का इलाज चल रहा है। यहां भर्ती मरीज न सिर्फ स्वस्थ हो रहे हैं, वे अपने इलाज से संतुष्ट भी हो रहे हैं।

केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ”LNJP में भर्ती इस अम्मा से वीडियो कॉल पर बात की। उन्होंने डॉक्टरों, नर्सों को खूब दुआएं दी। वे जल्द ही स्वस्थ हो जाएं भगवान से यहीं प्रार्थना है। इसी तरह LNJP में भर्ती कोरोना मरीजों के रिश्तेदार अब उनसे बात कर सकेंगे।”

LEAVE A REPLY