हाल ही में हुई एक स्टडी में सामने आया है कि बीमार होने पर दवाई खाने के बजाए हरियाली वाली जगह रहने से सेहत को कई फायदे होते हैं.

ज्यादातर लोग बीमार होने पर ना चाहते हुए भी दवाइयों का सहारा लेते हैं. लेकिन अब आपको छोटी-छोटी बीमारियों के होने पर दवाई खाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. हाल ही में हुई एक स्टडी में सामने आया है कि बीमार होने पर दवाई खाने के बजाए हरियाली वाली जगह रहने से सेहत को कई फायदे होते हैं.

स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रकृति और हरियाली के बीच रहने से टाइप-2 डायबिटीज, दिल की समस्या, हाई ब्लड प्रेशर, तनाव होने की संभावना बहुत कम होती है.

शरीर में इस तरह फैलता है कैंसर, ये होते हैं प्रमुख लक्षण

शोधकर्तओं ने बताया कि ‘अक्सर बीमार होने पर हम कई तरह की दवाइयां खाते हैं. लेकिन प्रकृति के बीच रहकर भी बिना दवाई खाए बीमारी को दूर किया जा सकता है. ‘उन्होंने ये भी बताया कि, पेड़ों में सेहत को बेहतर करने के गुण होते हैं. इनसे निकलने वाले ऑर्गेनिक कंपाउंड में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं.

मदरसे ने बिंदी लगाने पर लड़की को निकाला, पिता की फेसबुक पोस्ट वायरल

‘इन्वार्मेंट रिसर्च’ जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी में लगभग 140 स्टडी के डेटा पर रिसर्च की गई है. जिसमें 20 देशों के लगभग 290 मिलियन से भी ज्यादा लोग शामिल हैं.

स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया है कि, नेचर यानी प्रकृति के करीब रहने से नींद भी अच्छी आती है. दरअसल, हरियाली के आस पास रहने से शरीर में सेलीवरी कोर्टीसोल का स्तर कम हो जाता है. कोर्टीसोल शरीर में पाए जाने वाला हार्मोन है जिसकी वजह से तनाव होता है.