अमित शाह ने कहा, ‘विपक्षी पार्टी ने परिवारिक विरासत और समाज के कई धड़ों के तुष्टीकरण पर भरोसा दिया है.  

जयपुर: राजस्थान में चुनावी अभियान के अंतिम दिन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि विभिन्न जिलों के उनके दौरों के दौरान इसके (कांग्रेस) कई उम्मीदवार खुद को भविष्य के मुख्यमंत्री के तौर पर पेश कर रहे थे. उन्होंने यहां भाजपा के मीडिया सेंटर में एक प्रेस वार्ता में कहा, ‘जिस पार्टी में अनुशासन, नेतृत्व, नीति और सिद्धांतों की कमी है. जैसा कि पहले भी हुआ है.’

अमित शाह ने कहा ‘कांग्रेस नेता मौजूदा विधानसभा चुनाव में धर्म और जाति के आधार पर समाज को बांटने का काम कर रहे हैं’. शाह ने कहा, ‘विपक्षी पार्टी ने परिवारिक विरासत और समाज के कई धड़ों के तुष्टीकरण पर भरोसा दिया है. हम काम की राजनीति पर आगे बढ़ रहे हैं और राज्य में लागू विकास परियोजनाओं के आधार पर चुनाव लड़ रहे हैं’.

उन्होंने कहा कांग्रेस नेता अब काफी निचले स्तर तक उतर चुके हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ काफी अपमानजनक शब्दों को इस्तेमाल कर रहे हैं. शाह ने कहा कि कांग्रेस का वास्तविक चेहरा तब सामने आया, जब उसके कार्यकर्ताओं को ‘भारत माता की जय’ नारे को बोलने से रोका गया और जबकि उन्हें सोनिया, राहुल और अन्य शीर्ष नेताओं के जयकारे लगाने के लिए कहा गया.

शाह ने इसके साथ ही कहा कि भाजपा राज्य में बहुमत के साथ सरकार बनाएगी. बहरहाल अब चुनावी प्रचार का शोर थम गया है. 7 तारीख को मतदान होना है, 11 तारीख को परिणाम आएगा, देखना होगा कि दोनों दल के नेताओं के आकाओं और सेनापतियों की तरफ से जो कोशिशें हुई है, जनता उन कोशिशों पर उन वादों पर उन दावों पर कितना भरोसा करती है, और किस दल के हाथों में राजस्थान की कमान सौंपती है.