राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट शुक्रवार को एक ही हेलिकॉप्टर में नजर आए. इन दोनों नेताओं ने करीब छह महीने से भी अधिक समय बाद एक ही हेलिकॉप्टर से उड़ान भरी है.

नई दिल्ली, पंजाब में सत्ता परिवर्तन के बाद राजस्थान में भी हलचलें बढ़ गई थीं. सूबे में करीब छह महीने से सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बीच सियासी संघर्ष देखने को मिला है. एक समय तो अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को नाकारा तक कह दिया था. दोनों नेताओं के बीच बढ़ते तनाव की खबरों के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच सीजफायर के संकेत हैं.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट शुक्रवार को एक ही हेलिकॉप्टर में नजर आए. ये दोनों नेता कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन के साथ एक ही हेलिकॉप्टर में नजर आए. इन दोनों नेताओं ने करीब छह महीने से भी अधिक समय बाद एक ही हेलिकॉप्टर से उड़ान भरी है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट और अजय माकन के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी उस हेलिकॉप्टर में सवार थे.

सीएम गहलोत और अन्य नेता हेलिकॉप्टर से वल्लभनगर और धरियावाड़ के लिए रवाना हुए जहां उपचुनाव हो रहे हैं. कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने हेलिकॉप्टर में बैठे सभी नेताओं की तस्वीर ट्वीट कर वल्लभनगर और धरियावद के लिए रवाना होने की जानकारी दी. सीएम गहलोत, सचिन पायलट और अन्य नेताओं को वल्लभनगर और धरियावाड़ में कांग्रेस उम्मीदवारों के नामांकन से पहले रैली को संबोधित करेंगे.

गौरतलब है कि कांग्रेस ने धरियावद विधानसभा सीट से पूर्व विधायक नगराज मीणा और वल्लभनगर से दिवंगत विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत की पत्नी प्रीति शक्तावत को मैदान में उतारा है. विपक्षी भारतीय जनता पार्टी ने धरियावद से खेत सिंह मीणा और वल्लभनगर से हिम्मत सिंह झाला को मैदान में उतारा है.

LEAVE A REPLY