IND vs SL: राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की अगुवाई वाली भारतीय टीम प्रबंधन ने कई खिलाड़ियों को मौका दिया, जिनमें से कई युवाओं ने छाप छोड़ी.

नई दिल्ली. भारत ने श्रीलंका (India vs Sri Lanka) का अपना 45 दिवसीय लंबा दौरा पूरा कर लिया है, जहां शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की कप्तानी में भारतीय टीम ने श्रीलंका को वनडे सीरीज में मात दी, लेकिन टी20 सीरीज में उन्हें हार का सामना करना पड़ा. भारत इस दौरे पर श्रीलंका को 3 मैचों की वनडे सीरीज में 2-1 से हराया, लेकिन इसके बाद श्रीलंका ने 3 मैचों की टी20 सीरीज में भारत को 2-1 से हराकर जीत हासिल की. राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की अगुवाई वाली भारतीय टीम प्रबंधन ने कई खिलाड़ियों को मौका दिया, जिनमें से कई युवाओं ने छाप छोड़ी. लेकिन दूसरे टी20 मैच से पहले ऑल राउंडर क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद टीम इंडिया के अभियान को गंभीर रूप से प्रभावित किया.

इससे क्रुणाल और उनके 8 करीबी संपर्क में आए खिलाड़ी जैसे पृथ्वी शॉ, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, दीपक चाहर, युजवेंद्र चहल आदि को शेष दोनों टी20 मैचों से बाहर होना पड़ा. भारत टी20 सीरीज का पहला मैच जीतकर 1-0 से आगे था, लेकिन इतने सारे खिलाड़ियों के बाहर हो जाने के बाद टीम पर इसका असर पड़ा और शेष दोनों मैचों में भारत को हार का सामना करना पड़ा. इस झटके के बाद भी भारत के युवा खिलाड़ियों ने राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में काफी शानदार फाइट की. टीम के युवा खिलाड़ियों की परफॉर्मेंस के बाद कई लोगों ने इस बात पर जोर देना जारी रखा कि कैसे राहुल द्रविड़ टीम इंडिया के पूर्णकालिक कोच के रूप में रवि शास्त्री (Ravi Shastri) की जगह लेने के लिए आदर्श उम्मीदवार हैं.

इस साल के आईसीसी टी20 विश्व कप के बाद टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल समाप्त होने वाला है. यदि भारत उसके अधीन आईसीसी ट्रॉफी के बिना बना रहता है तो उन्हें बदले जाने की संभावना है. ऐसे में कई लोगों ने राहुल द्रविड़ के टीम इंडिया के हेड कोच का पदभार संभालने का समर्थन किया है.

श्रीलंका दौरे के समापन के बाद राहुल द्रविड़ ने खुद इस बड़े सवाल का जवाब दिया है. तीसरे टी20 मैच के बाद द्रविड़ ने मीडिया से कहा, ”मैंने इस अनुभव का आनंद लिया है, लेकिन मैंने आगे कुछ भी नहीं सोचा है. मैं वही कर रहा हूं, जो मैं कर रहा हूं. मैंने इस दौरे को पूरा करने के अलावा और कोई विचार नहीं किया है. मैंने इन लोगों के साथ काम करने के अनुभव का लुत्फ उठाया है, यह बहुत अच्छा रहा है. मैंने किसी और चीज के बारे में कुछ नहीं सोचा है.”

उन्होंने आगे कहा, ”पूर्णकालिक भूमिकाएं करने में बहुत सारी चुनौतियां हैं, इसलिए मैं वास्तव में नहीं जानता.” राहुल द्रविड़ और शिखर धवन इस पूरे दौरे के नतीजे काफी खुश हैं, जबकि टीम इंडिया को तीन मैचों की टी20 सीरीज में हार का सामना करना पड़ा है. तीसरे टी20 मैच में भारत 20 ओवर 9 विकेट गंवा कर सिर्फ 81 रन ही बना पाया. वानिंदु हसरंगा ने 9 रन देकर 4 विकेट झटके और मेहमान टीम को झटका दिया. टीम इंडिया 14.3 ओवर में ही मैच हार गई और श्रीलंका ने सात विकेट से जीत दर्ज की.

राहुल द्रविड़ अब बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) के प्रमुख के रूप में वापसी करेंगे.

LEAVE A REPLY