झारखंड सरकार ने अब रविवार को आवश्यक सेवाओं को खोलने का फैसला लिया है. यानी रविवार के दिन अब राशन से लेकर फल तक के दुकान खुलेंगे. वहीं क्लास 9 से 12 तक की ऑफलाइन पढ़ाई शुरू की जाएगी.

रांची. झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार (Hemant Govt) ने कोरोना संक्रमण (Corona) के गिरते ग्राफ को देखते हुए राज्य की जनता को कई तरह की छूट देने का निर्णय लिया है. झारखंड मंत्रालय में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में रविवार को आवश्यक सेवाओं को खोलने का फैसला लिया गया है. यानी रविवार के दिन अब राशन से लेकर फल तक के दुकान खुलेंगे. वहीं क्लास 9 से 12 तक की ऑफलाइन पढ़ाई शुरू करने का भी निर्णय लिया गया है. हालांकि बगैर प्रार्थना के ये क्लास दिन के 12 बजे तक के लिये ही संचालित हो सकेंगी. वही केंद्र और राज्य सरकार द्वारा आयोजित परीक्षाएं लिए जाने का भी निर्णय लिया गया है. इंटर स्टेट बस सेवा शुरू करने पर भी सहमति बनी है.

बैठक के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि कोरोना की स्थिति सामान्य होने के चलते सरकार ने कुछ छूट दी है. अब स्कूल, दुकान, कोचिंग संस्थान खोले जाएंगे. साथ ही सभी परीक्षाएं भी होंगी. लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि संक्रमण टल गया है. कभी भी संक्रमण दस्तक दे सकता है. इसलिए मास्क के साथ-साथ जरूरी सावधानी जरूरी है.

बता दें कि गुरुवार को आई रिपोर्ट के मुताबिक झारखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण से एक और व्यक्ति की मौत के साथ कोरोना महामारी से जान गवाने वालों की संख्या 5,126 हो गयी, जबकि संक्रमण के 27 नये मामले सामने आये. इन्हें मिलाकर राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3,47,049 हो गयी.

रिपोर्ट के अनुसार, राज्य के 3,47,049 संक्रमितों में से 3,41,686 अब तक ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. इसके अलावा 237 अन्य संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है.

पिछले 24 घंटों में राज्य में कुल 58,148 नमूनों की जांच की गयी जिनमें से 27 संक्रमित पाये गये. इस दौरान, जहां रांची में केवल चार नये लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये. वहीं पूर्वी सिंहभूम में एक व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि हुई. पिछले चौबीस घंटों में एक कोरोना संक्रमित की मौत पूर्वी सिंहभूम में हुई. जबकि अन्य 23 जिलों में संक्रमण से मौत का कोई मामला सामने नहीं आया.

LEAVE A REPLY