ममता ने आज कहा, ‘मैंने आज शरद पवार से बातचीत की. मेरी यात्रा सफल रही. हम राजनीतिक उद्देश्य के लिए मिले. लोकतंत्र जिंदा रहना चाहिए. मेरा स्लोगन है ‘लोकतंत्र बचाओ देश बचाओ’ (Save Democracy Save Country). हम किसानों के मुद्दे का समर्थन करते हैं. मैं हर दूसरे महीने दिल्ली आऊंगी.’

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने मिशन 2024 की रेस तेज कर दी है. पिछले पांच दिनों के दिल्ली प्रवास के दौरान उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी के साथ-साथ देश के कई विपक्षी नेताओं से मुलाकात की है. अब उन्होंने ऐलान किया है कि वह हर दो महीने दिल्ली आएंगी. माना जा रहा है कि ममता के इस ऐलान के पीछे उनका मिशन 2024 है.

ममता ने आज कहा, ‘मैंने आज शरद पवार से बातचीत की. मेरी यात्रा सफल रही. हम राजनीतिक उद्देश्य के लिए मिले. लोकतंत्र जिंदा रहना चाहिए. मेरा स्लोगन है ‘लोकतंत्र बचाओ देश बचाओ’ (Save Democracy Save Country). हम किसानों के मुद्दे का समर्थन करते हैं. मैं हर दूसरे महीने दिल्ली आऊंगी.’

गौरतलब है कि बंगाल में बड़ी जीत के बाद ममता का यह पहला दिल्ली दौरा था. इस दौरे में उन्होंने विपक्ष के कई नेताओं से मुलाकात की. कुछ दिन पहले ममता ने कहा था कि बीजेपी को हराने के लिए पूरे विपक्ष को एक होना होगा. ममता इसी कोशिश में लगी हुई हैं. हालांकि, विपक्ष का नेता कौन इस सवाल को उन्होंने टाल दिया था.

उन्होंने कहा था कि वह कोई ज्योतिषी नहीं है. बता दें कि वह केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रही हैं. 2024 लोकसभा चुनाव से पहले ममता लगातार विपक्ष का चेहरा बनने की कोशिश में जुटी हुई हैं.

LEAVE A REPLY