अमेरिकी सरकार ने म्यांमार सेना (Myanmar Coup) के सात सदस्यों और उनके परिवार के 15 सदस्यों पर पाबंदी लगाने की घोषणा की है. म्यांमार में फरवरी में तख्तापलट और देश में प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई के जवाब में अमेरिका (America) ने यह पाबंदी लगाई है.

वाशिंगटन. अमेरिका के जो बाइडन (Joe Biden) प्रशासन ने म्यांमार (Myanmar) में तख्तापलट के बाद लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों पर सरकार की कार्रवाई के कारण शुक्रवार को 22 वरिष्ठ अधिकारियों और उनके परिवार के सदस्यों पर पाबंदी लगा दी. अमेरिकी सरकार ने म्यांमार सेना के सात सदस्यों और उनके परिवार के 15 सदस्यों पर पाबंदी लगाने की घोषणा की है. म्यांमार में फरवरी में तख्तापलट और देश में प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई के जवाब में अमेरिका ने यह पाबंदी लगाई है. इसके अलावा ईरान के तीन अधिकारियों पर पूर्व में लगाई गई पाबंदी हटा ली गई.

अमेरिका के राजकोष विभाग ने कहा कि सेना द्वारा लोकतंत्र का दमन और बर्मा (म्यांमार) के लोगों के खिलाफ क्रूर हिंसा का अभियान अस्वीकार्य है. बयान में कहा गया कि अमेरिका म्यांमा की सेना के खिलाफ जुर्माना लगाना जारी रखेगा. म्यांमार के सूचना मंत्री चिट नेंग, श्रम मंत्री, सामाजिक कल्याण मंत्री समेत कई वरिष्ठ मंत्रियों के खिलाफ पाबंदी लगाई गई है. अमेरिकी अधिकारी क्षेत्र में इन अधिकारियों की संपत्ति पर रोक लग जाएगी और अमेरिकी लोग इनके साथ किसी तरह का कारोबार नहीं कर पाएंगे.

विभाग ने ईरान के तीन अधिकारियों पर पाबंदी हटाने पर कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया लेकिन अधिकारियों ने कहा कि पूर्व में भी इस तरह के कदम उठाए गए थे. पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने ईरान के बहजाद डेनियल फर्दोस, बहजाद डेनियल फर्दोस और मोहम्द रेजा देजाफुलियन पर पाबंदी लगा दी थी.

LEAVE A REPLY