Benefits of Isabgol or Psyllium: क्या आप जानते हैं कि इसबगोल (Isabgol) केवल पेट में मरोड़, दर्द और मोशन को ही सही करने में मदद नहीं करता है बल्कि ये शरीर की कई और परेशानियों को कम करने में भी मदद करता है.

इसबगोल (Isabgol) के बारे में आपने कई बार सुना होगा. पेट में दर्द-मरोड़ और लूज़ मोशन की दिक्कत होने पर इसका सेवन भी आपने किया होगा. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसबगोल केवल पेट दर्द-मरोड़ और मोशन को ही सही करने में मदद नहीं करता है बल्कि ये शरीर की कई और परेशानियों को कम करने में भी मदद (Help) करता है. आइये जानते हैं कि इसबगोल किन-किन दिक्कतों को दूर करने में फायदेमंद है.

कब्ज में फायदेमंद

कब्ज की दिक्कत को दूर करने में इसबगोल मदद करता है. इसके लिए आप रात को सोने से पहले एक चम्मच इसबगोल को गर्म पानी या गर्म दूध के साथ ले सकते हैं. अगर आप चाहें तो त्रिफला चूर्ण और इसबगोल को बराबर की मात्रा में मिला कर भी इसका सेवन कर सकते हैं.

दांत दर्द दूर करे

एक चम्मच इसबगोल को दो चम्मच सिरके में भिगो कर दो मिनट तक रख दें. इसको अच्छी तरह से मिक्स कर के दांतों के नीचे दबाकर रखें. ऐसा करने से दांत दर्द की दिक्कत से निजात मिलती है.

पाइल्स में फायदेमंद

कई बार पाइल्स की दिक्कत होने पर ब्लड भी आने लगता है. इस दिक्कत को दूर करने के लिए इसबगोल का शर्बत बनाकर पिया जा सकता है. इससे ब्लड आने की दिक्कत बंद हो जाती है.

पेचिश ठीक करने में सहायक

पेचिश और खूनी पेचिश यानी डिसेन्ट्री को दूर करने में इसबगोल काफी मदद करता है. इसके लिए दो चम्मच इसबगोल को दो चम्मच दही के साथ मिलाकर इसका सेवन किया जा सकता है. बेहतर रिजल्ट के लिए इसका सेवन दिन में दो से तीन बार तक किया जा सकता है.

पाचन सही रखने में मददगार

पाचन सही रहने में भी ये मददगार है. ये फाइबर का बेहतर स्रोत है. इसबगोल अपने वजन से लगभग चौदह गुना ज्यादा पानी सोखता है. साथ ही ये चर्बी को गलाने में भी मदद करता है जिससे वजन भी कम होता है.

ज़ुकाम-कफ़ और सूखी खांसी में फायदेमंद

ज़ुकाम और सूखी खांसी से राहत पाने के लिए आप इसबगोल का सेवन कर सकते हैं. ज़ुकाम होने पर आप इसबगोल का काढ़ा बना कर इसका सेवन कर सकते हैं. ये ज़ुकाम के साथ कफ़ से भी आपको निजात दिलवाने में मदद करेगा. साथ ही सूखी खांसी को ठीक करने में भी मदद करेगा.

कान दर्द से दे राहत

कान में दर्द होने पर भी आप इसबगोल का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए आप दस ग्राम इसबगोल का घोल बना लें और इसमें दस मि.ली. प्याज़ का रस मिला लें. इस मिक्सचर को कान में डालने से दर्द बंद हो जाता है.(

LEAVE A REPLY