बिहार विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है. पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में तेजस्‍वी यादव साइकिल चलाकर विधानसभा की कार्यवाही में हिस्‍सा लेने पहुंचे.

पटना. बिहार विधानसभा में बजट सत्र चल रहा है. सदन की कार्यवाही में हिस्‍सा लेने के लिए कोई साइकिल से पहुंच रहा है तो कोई ट्रैक्टर और विंटेज कार से पहुंच रहा है. शुक्रवार को इस सिलसिले को कायम रखते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव खुद साइकिल चलाकर विधानसभा पहुंचे. तेजस्‍वी पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में साइकिल चलाकर विधानसभा पहुंचे. तेजस्वी यादव मां राबड़ी देवी के आवास से साइकिल चलाते हुए विधानसभा तक पहुंचे.

तेजस्वी यादव ने पेट्रोल-डीजल और गैस के बढ़े दामों पर हमला बोलते हुए कहा कि पहले बीजेपी सरकार गाना गाती थी कि महंगाई डायन खाय जात है, लेकिन अब चुप क्यों है? पेट्रोल की कीमत 100 रुपये पर आ गया है. डीजल और गैस के दामों में आग लगी हुई है, पर सरकार सिर्फ घोषणाएं करती है. जमीन पर कोई काम नहीं करती. तेजस्वी ने कहा कि बिहार सरकार ने भी टैक्स बढ़ चढ़कर लगाया हुआ है, जिसके कारण पेट्रोलियम पदार्थ महंगा है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर सरकार टैक्स में कुछ छूट दे तो लोगों को राहत मिल सकती है. तेजस्वी के साइकिल से सदन पहुंचने को बीजेपी ने ड्रामेबाजी बताया है. बछवाड़ा के बीजेपी विधायक सुरेंद्र मेहता ने कहा कि तेजस्वी यादव हर दिन कोई न कोई ऐसा तरीका ढूंढते हैं, जिससे वो सुर्खियों में बने रहें.

बजट सत्र के पहले दिन ट्रैक्टर से पहुचे थे सदन
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इससे पहले बजट सत्र के शुरुआती दिन ही ट्रैक्टर से विधानसभा पहुंचकर हंगामा खड़ा कर दिया था. किसान आंदोलन के समर्थन और तीनों कृषि बिल वापस लेने की मांग करते हुए तेजस्वी यादव खुद ट्रैक्टर चलाकर विधानसभा के गेट तक पहुचे थे. सुरक्षाकर्मियों ने ट्रैक्टर के साथ विधानसभा के भीतर प्रवेश करने से मना कर दिया था.

LEAVE A REPLY