गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा, ‘हमारा यह लक्ष्‍य नहीं है कि ममता बनर्जी की सरकार को हटाकर बीजेपी की सरकार लाई जाए, बल्कि हमारा लक्ष्‍य पश्चिम बंगाल के हालात को बदलना है.

नई दिल्‍ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal Elections 2021) में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए बीजेपी पूरे जोर शोर से मैदान में उतर चुकी है. इसी कड़ी में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) गुरुवार को पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं. उन्‍होंने पहले गंगासागर की यात्रा की. इसके बाद वह दक्षिण 24 परगना पहुंचे. वहां उन्‍होंने रैली में  जनता को संबोधित भी किया. इस दौरान उन्‍होंने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर भी निशाना साधा.

गृह मंत्री अमित शाह ने इस दौरान कहा, ‘बंगाल को सोनार बांग्‍ला बनाने की यह बीजेपी की लड़ाई है. यह जंग हमारे बूथ वर्कर्स और टीएमसी के सिंडिकेट के बीच है.’ उन्‍होंने यह भी कहा, ‘हमारा यह लक्ष्‍य नहीं है कि ममता बनर्जी की सरकार को हटाकर बीजेपी की सरकार लाई जाए, बल्कि हमारा लक्ष्‍य पश्चिम बंगाल के हालात को बदलना है. हम राज्‍य के गरीबों की स्थिति को बदलना चाहते हैं. हम राज्‍य की महिलाओं के हालात को बदलना चाहते हैं.’

उन्‍होंने कहा, ‘यह सत्ता में बदलाव नहीं है, यह गंगासागर के प्रति सम्मान और क्षेत्र के मछुआरों में बदलाव लाने के बारे में है. क्या पश्चिम बंगाल में कानून और व्यवस्था की स्थिति ठीक हो सकती है, जब तक कि ममता बनर्जी की सरकार है? क्या बंगाल प्रगति की राह पर चल सकता है?’

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘ये परिवर्तन रैली मोदी जी का संदेश लेकर आ रही है. मोदी जी कुछ भी भेजते हैं, ये सिंडिकेट वाले बीच में ही ले लेते हैं. आप लोग बताओ इनको बदलने का काम करोगे या नहीं. बंगाल में जंगल के लोगों के जीवन में परिवर्तन हो इसलिए ये परिवर्तन यात्रा लाए हैं. किसानों को सही दाम मिले, कोई बिचौलिया न हो, इसलिए परिवर्तन कहते हैं.’

अमित शाह ने कहा, ‘बंगाल में जो राजनीतिक हिंसा होती है, उसमें 130 बीजेपी कार्यकर्ता मारे गए. ममता दीदी सोचती हैं कि किसी को मार देने से बीजेपी रुक जाएगी. मैं उनसे कहना चाहता हूं कि ममता दीदी तृणमूल के गुंडों ने हमारे 130 कार्यकर्ताओं को मारा है, उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी. बंगाल की धरती पर ताकत के साथ कमल खिलने वाला है.’

LEAVE A REPLY