क्रिस मोरिस और ग्लेन मैक्सवेल को ज्यादा कीमत के कारण उनकी टीमों ने रिलीज किया था, लेकिन इस आईपीएल ऑक्शन में दूसरे टीमों ने उन्हें और ज्यादा कीमत लगाकर खरीद लिया. अब देखना है कि ये दोनों क्या कमाल दिखाते हैं.

नई दिल्ली: आईपीएल के 14वें सीजन का ऑक्शन कुछ खिलाड़ियों की उम्मीदों से बढकर परिणाम लेकर आया है. ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल और दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस उन्हीं खिलाड़ियों में से एक हैं, जो अपनी पहले की टीमों को थैंक्स कर रहे होंगे कि उन्होंने उन्हें रिलीज कर दिया. इन दोनों को खिलाड़ियों को जिस बडी रकम के कारण रिलीज किया गया था, अब वह उससे कहीं ज्यादा बडी रकम पर खरीदे गए हैं. क्रिस मोरिस तो आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी बन गए हैं. इतनी बडी रकम में आईपीएल में अब तक कोई भी खिलाड़ी खरीदा नहीं गया है. वहीं ग्लेन मैक्सवेल की झोली में भी उम्मीद से बढकर पैसे आए हैं.

आईपीएल के 14वें सीजन का ऑक्शन से पहले ग्लेन मैक्सवेल को पंजाब की टीम ने रिलीज कर दिया था. उन्हें पिछली बार पंजाब की टीम ने 10 करोड 75 लाख में खरीदा था. ऐसे में सभी की निगाहें इस बात पर थीं, कि मैक्सवेल को कौन सी टीम और कितने में खरीदती है. नीलामी के दौरान मैक्सवेल को खरीदने को लेकर चेन्नई और बेंगलोर के बीच बोली लंबी चली. लेकिन आखिर में बाजी विराट की टीम ने मारी. मैक्सवेल को इस टीम ने दो करोड़ की बेस प्राइस से सात गुना से ज्यादा कीमत देकर 14.25 करोड़ रुपए खरीदा है.

पिछले सीजन में नहीं बोला बल्ला
पिछले सीजन में पंजाब की टीम ने ग्लेन मैक्सवेल को 10.75 करोड़ रुपए में खरीदा था. मैक्सवेल का पिछले सीजन में प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा था. उन्होंने 13 मैच में सिर्फ 108 रन बनाए थे और एक बार भी पचास रन का आंकड़ा नहीं पार कर पाए थे. सबसे बड़ी बात है कि अपनी हार्ट हिटिंग के लिए मशहूर इस खिलाड़ी के बल्ले से पिछले सीजन में एक भी छक्का नहीं निकला था.

खुद कहा था, विराट की कप्तानी में खेलना चाहेंगे
ऑक्शन के पहले जब ग्लेन मैक्सवेल से उनकी पसंदीदा टीम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा था कि वह विराट की कप्तानी में खेलना पसंद करेंगे. इसके अलावा उन्होंने बेंगलोर टीम के एक और सदस्य एबी डिविलयर्स की तारीफ करते हुए कहा था कि वह ऐसे खिलाडी है, जिनसे हमेशा सीखना चाहता हूं.

क्रिस मारिस की हो गई बल्ले बल्ले
क्रिस मॉरिस पिछली बार बेंगलोर की टीम का हिस्सा थे. लेकिन उन्हें इस बार टीम ने रिलीज कर दिया था. टीम उन्हें कम दामों में खरीदना चाहती थी. उनका बेस प्राइस सिर्फ 75 लाख रुपए था. लेकिन ऑक्शन में उनकी बोली लगातार आगे बढती गई. और अंत में उन्हें राजस्थान रॉयल्स ने 16.25 करोड़ की बड़ी कीमत पर खरीद लिया. युवराज सिंह को दिल्ली डेयरडेविल्स( अब दिल्ली कैपिटल्स) ने 2015 में 16 करोड़ रुपये में खरीदा था. वे अब तक आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी थे.

LEAVE A REPLY