मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से कोविड 19 की गाइडलाइन को फॉलो करने की अपील की है. दरअसल वे स्ट्रीट वेंडर्स के कार्यक्रम में गए थे. यहां उन्होंने लोगों को बिना मास्क के देखा.

भोपाल. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक बार फिर कोरोना वायरस का डर सता रहा है. उन्होंने एक कार्यक्रम में महाराष्ट्र और केरल  का उदाहरण देते हुए लोगों से गाइडलाइन का पालन करने की अपील की है. उन्होंने लोगों के मास्क न पहनने पर भी सवाल उठा दिया.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को ग्रामीण स्ट्रीट वेंडर्स ऋण वितरण कार्यक्रम में शिरकत की. उन्होंने यहां कहा- सभी लोग सबसे पहले मास्क पहने, कोरोना से बचाव के लिए मास्क जरूरी है. लोग सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखें और भीड़भाड़ वाले इलाकों में बराबर दूरी बनाएं. उन्होंने कहा- आजकल ज्यादातर लोग मास्क नहीं पहन रहे, जो ठीक नहीं. महाराष्ट्र और केरल में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ गया है. इसलिए कोरोना की गाइडलाइन का पालन करें.

स्व रोजगार हो जाए तो मेरा सीएम बनना सफल- शिवराज

कार्यक्रम में शिवराज ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर जैसी और योजनाए बनाएंगे. स्व रोजगार योजना पूरी तरह बनकर लागू हो गई तो मेरा मुख्यमंत्री बनना सफल हो गया. उन्होंने  कहा- स्ट्रीट वेंडर का रजिस्ट्रेशन होगा. प्रदेश भर में सभी स्ट्रीट वेंडर्स का पहचान पत्र बनेगा. ग्रामीण पथ विक्रेता को ट्रेनिंग दी जाएगी. शहर और गांव में व्यवसाय के लिए ऐसा स्थान तैयार करना है, जहां विक्रेता स्व सहायता समूह के लोग व्यवसाय कर सकें. तीन साल में सभी घरों तक होगा नल कनेक्शन.

कमलनाथ के पास कोई काम नहीं- सीएम

सीएम शिवराज ने कहा कि कमलनाथ जी के पास फिलहाल कोई काम नहीं है. उनका काम सिर्फ ट्वीट करना है. कमलनाथ जी ट्वीट करते रहते हैं. कहीं कुछ देखा और ट्वीट कर दिया. गौरतलब है कि पूर्व सीएम कमलनाथ ने पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों पर ट्वीट किया था.

LEAVE A REPLY