चेन्नई में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में चेपॉक की पिच पर कई पूर्व खिलाड़ी सवाल खड़े कर रहे हैं, जिसके बाद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने उन्हें करारा जवाब दिया है.

नई दिल्ली. चेपॉक में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में खिलाड़ियों के प्रदर्शन से ज्यादा मैदान की पिच पर ज्यादा चर्चा हो रही है. चेपॉक की पिच पहले दिन से ही काफी टर्न ले रही है, जिसके बाद इंग्लैंड के कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने पिच पर सवाल खड़े किये. माइकल वॉन ने कहा कि उन्हें इस तरह की पिच कतई पसंद नहीं है जहां मैच तीन दिन ही चलता हो और बल्लेबाजी लगभग नामुमकिन हो. लेकिन पिच की आलोचना कर रहे पूर्व इंग्लिश खिलाड़ियों को गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने करारा जवाब दिया है.

गौतम गंभीर ने दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन कमेंट्री के दौरान कहा कि चेन्नई की पिच चाहे कैसी भी है वहां विकेट लेने के लिए टैलेंट की जरूरत होगी. गौतम गंभीर ने कहा कि चेन्नई की इसी पिच पर भारतीय स्पिनर और इंग्लैंड के स्पिनरों में काफी अंतर दिखा. यही वजह है कि इंग्लैंड के बल्लेबाज चेन्नई की पिच पर पहली पारी में महज 134 रन बना सके और भारतीय बल्लेबाजों ने पहली पारी में 329 और दूसरी पारी में 286 रन बनाए.

अश्विन के शतक ने भी इंग्लैंड के खिलाड़ियों की बोलती बंद
चेन्नई टेस्ट के तीसरे दिन आर अश्विन ने शतक ठोक इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ियों की बोलती बंद कर दी. अश्विन ने 106 रन बनाकर साबित कर दिया कि अगर तकनीक सही हो तो चेन्नई की पिच पर भी रन बनाये जा सकते हैं. अश्विन ने चेन्नई की मुश्किल पिच पर 14 चौके और 1 छक्का लगाया. अश्विन का स्ट्राइक रेट भी 70 से ज्यादा रहा. यही नहीं अश्विन ने 11वें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए मोहम्मद सिराज के साथ भी 49 रनों की साझेदारी कर डाली. अश्विन से पहले विराट कोहली ने भी शानदार अर्धशतकीय पारी खेली. विराट कोहली ने 149 गेंदों में 62 रन बनाए.

LEAVE A REPLY