डॉक्टर घेब्रेसिस ने कहा है कि भारत ने कोरोना को खत्म करने के लिए निर्णायक कार्रवाई जारी रखी है. भारत दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता देश के तौर पर काम करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

  • नई दिल्ली,भारत में बनी कोरोना वायरस की वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिल गई है. भारत में कोरोना की वैक्सीन को अनुमति दिए जाने के कदम की विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी तारीफ की है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख डॉक्टर टेड्रोस अधनोम घ्रेबेसिस ने भारत की तारीफ की है. डॉक्टर घेब्रेसिस ने पीएम मोदी को टैग करते हुए ट्वीट किया है.

     

    अपने ट्वीट में डॉक्टर घेब्रेसिस ने कहा है कि भारत ने कोरोना को खत्म करने के लिए निर्णायक कार्रवाई जारी रखी है. भारत दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता देश के तौर पर काम करने के लिए पूरी तरह से तैयार है. डब्ल्यूएचओ प्रमुख डॉक्टर घेब्रेसिस ने कहा है कि वैक्सीन से हर जगह कमजोर लोगों को बचाया जा सकता है, अगर हम सभी मिलकर काम करें.

    गौरतलब है कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने भारत में निर्मित कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति दे दी है. भारत के इस कदम की दुनिया भर में तारीफ हुई. पीएम मोदी ने इसे आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने की दिशा में बड़ा कदम बताते हुए वैज्ञानिकों और डॉक्टर्स को बधाई दी थी.

LEAVE A REPLY