अमेरिका में अब युद्ध स्तर पर वैक्सीन देने की तैयारी चल रही है. इस बीच व्हाइट हाउस की ओर से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दावों पर सवाल खड़े करने वाले न्यूजलेट और नेताओं पर निशाना साधा है.

ब्रिटेन के बाद अब अमेरिका ने भी कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण शुरू कर दिया है. व्हाइट हाउस ने इतने कम समय में वैक्सीन तैयार होने को चमत्कार करार दिया है और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ की है.

रविवार से फाइज़र वैक्सीन को अमेरिका के हर राज्य में भेजना शुरू किया गया, जिसके बाद आम लोगों को वैक्सीन देने का काम शुरू होगा.

व्हाइट हाउस की ओर से कहा गया है कि अमेरिका ने बीते दिन करिश्मा देखा, कोरोना वैक्सीन की पहली डोज़ दे दी गई है. राष्ट्रपति ट्रंप ने कम वक्त में बेहतरीन वैक्सीन का वादा किया था, जो उन्होंने निभाया है. व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी कायले मैकनैनी ने कहा कि ट्रंप की कोशिश है कि जल्द से जल्द हर अमेरिकी को वैक्सीन मिले.

वैक्सीन की प्रक्रिया शुरू होने के बाद व्हाइट हाउस ने उन मीडिया हाउस पर निशाना साधा है, जिन्होंने डोनाल्ड ट्रंप पर सवाल खड़े किए थे. व्हाइट हाउस ने कहा कि कुछ लोगों ने कहा था कि एक साल में वैक्सीन नहीं आ सकती है, ट्रंप सबकुछ गलत कर देंगे लेकिन आज जब वैक्सीन मिलना शुरू हुई है तो शायद उन सभी को जवाब मिला होगा.

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल के अब कुछ ही दिन बचे हैं, ऐसे में उन्होंने बीते दिनों ऐलान किया था कि सभी अमेरिकियों को मुफ्त में वैक्सीन दी जाएगी. अभी अमेरिका में सिर्फ फाइज़र वैक्सीन को मंजूरी मिली है, जिसके बाद सभी राज्यों में उसकी डोज़ पहुंचाई जा रही है.

अमेरिका जल्द ही मॉर्डना वैक्सीन को भी मंजूरी दे सकता है, ताकि बड़े स्तर पर वैक्सीन देने का काम शुरू हो. अमेरिका में कोरोना संकट के कारण तीन लाख के करीब लोगों की जान गई है, जो दुनिया में किसी भी देश में सबसे अधिक है.

LEAVE A REPLY