अखिलेश यादव बुधवार को लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में आए सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की डबल इंजन सरकार लोकतंत्र को रौंदने में लगी है. मतदान में धांधली से मतदाता के अधिकार पर चोट पहुंचती है. इससे लोकतंत्र की पवित्रता नष्ट होती है. हमें इन स्थितियों के प्रति सावधान रहना है.

  • लखनऊ,

    समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश के उपचुनावों में जनता द्वारा समर्थन देने वाले मतदाताओं के प्रति आभार जताया है. उन्होंने कार्यकर्ताओं से संयम और निष्ठा से काम करने, समाजवादी सरकार के कामों और समाजवादी पार्टी की नीतियों को घर-घर, गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए सक्रिय होने को भी कहा.

    पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि पार्टी को बूथस्तर तक मजबूती देकर ही हम झूठ, फरेब और धांधली की राजनीति का मुकाबला कर सकेंगे. हमारा एजेंडा प्रदेश के सर्वोन्मुखी विकास का है और इसके लिए 2022 में समाजवादी सरकार बनाना आवश्यक है. उत्तर प्रदेश में 7 सीटों पर हुई उपचुनाव में बीजेपी ने अपनी पिछली 6 सीटें जीतकर दबदबा कायम रखा तो समाजवादी पार्टी ने मल्हनी सीट पर जीत हासिल की है.

    अखिलेश  यादव बुधवार को लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में आए सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की डबल इंजन सरकार लोकतंत्र को रौंदने में लगी है. मतदान में धांधली से मतदाता के अधिकार पर चोट पहुंचती है. इससे लोकतंत्र की पवित्रता नष्ट होती है. हमें इन स्थितियों के प्रति सावधान रहना है.

    उन्होंने कहा कि बीजेपी को वस्तुतः विकास करना ही नहीं है, वह तो विनाश के रास्ते पर ही चलती है. सामाजिक सद्भाव बिगाड़ना, समाज में दूरी पैदा कर बीजेपी राजनीति की उपलब्धि मानती है.

    पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी के काम काज से निराशा और उसकी नीतियों से देश में अविश्वास व्याप्त हुआ है. समाज में परस्पर विद्वेष को बढ़ावा दिया गया है. संविधान की शपथ के विरूद्ध बीजेपी सरकार रागद्वेष की भावना से काम करती है. इसके विपरीत समाजवादी पार्टी की नीतियां जनहित और सर्वोन्मुखी विकास पर बल देती है.

    कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि जनता का भरोसा समाजवादी पार्टी पर है. हमें उस पर खरा उतरना है. बीजोपी सरकार का अब एक साल ही बचा है. जनता इससे ऊबी हुई है और उससे मुक्ति चाहती है. बीजेपी सरकार को हटाकर, समाजवादी सरकार बनने पर ही जनता की आशा-आंकाक्षा पूरी हो सकेगी.

LEAVE A REPLY