बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव ने कहा कि केरल गोल्ड स्मगलिंग केस में चार एजेंसियां अलग-अलग पहलूओं की जांच कर रही है.

  • नई दिल्ली,केरल गोल्ड स्मगलिंग केस में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दावा किया है कि इस मामले के तार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और उसकी डी-कंपनी से जुड़ रहे हैं. वहीं बीजेपी ने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है. बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव ने कहा कि अब यह केस सीएम ऑफिस से जुड़ गया है. इस मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय के लोगों को भी पकड़ा गया है. हालांकि मुख्यमंत्री अब भी इंकार कर रहे हैं.

    उन्होंने कहा कि केरल गोल्ड स्मगलिंग केस में चार एजेंसियां अलग-अलग पहलूओं की जांच कर रही है. एनआईए इस केस में आतंकी वित्त पोषण एंगल की जांच कर रही है. इस मामले में पहले ही कई हाई प्रोफाइल लोगों के नाम खींचे जा चुके हैं. बीजेपी का आरोप है कि सपना सुरेश ने दूसरे देशों से फंड प्राप्त किए थे. ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) मनी लॉन्ड्रिंग मामले की भी जांच कर रही है.

    बता दें, जांच एजेंसी का दावा है कि पूछताछ के दौरान स्वप्ना सुरेश ने स्वीकार किया कि केरल के मुख्यमंत्री के पूर्व प्रमुख सचिव एम. शिवशंकर के माध्यम से, उसका सीएमओ के साथ “जुड़ाव” था.

    एनआईए के मुताबिक शिवशंकर ने कई मसलों पर स्वप्ना को सलाह दी थी. हालांकि शिवशंकर ने सोने से भरे बैग को राजनयिक तरीके से निकालने में स्वप्ना की मदद करने से इनकार कर दिया था. एनआईए के विजय कुमार ने यह बात कोर्ट में कही है.

    जांच एजेंसी के मुताबिक स्वप्ना ने बताया कि वह वाणिज्य दूतावास के साथ काम करने के दौरान से सीएम को जानती थी. वह इफ्तार की बैठकों और पार्टियों के दौरान महावाणिज्य दूतावास से जानकारी हासिल करती थी. इससे पहले, यह सामने आया था कि स्वप्ना ने जून में कई बार केटी जलील को फोन किया था.

    एनआईए का दावा, दाऊद से जुड़े हैं तार

    वहीं गुरुवार को केरल गोल्ड स्मगलिंग केस में एनआईए ने आरोपियों की जमानत याचिका का विरोध किया था. जमानत याचिका के खिलाफ दायर जवाब में एनआईए ने दावा किया है कि इस मामले के तार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और उसकी डी-कंपनी से जुड़ रहे हैं.

     

    अपने जवाब में एनआईए ने कहा कि रमीज (ए -5) की कस्टोडियल पूछताछ के दौरान उसने खुलासा किया है कि उसने तंजानिया में हीरा कारोबार शुरू करने का प्रयास किया था. बाद में उसने तंजानिया में सोने का खनन लाइसेंस लेने की कोशिश की थी. उसने तंजानिया से सोना खरीदने और यूएई में बेचने के बारे में भी बताया.

    एनआईए का कहना है कि इस मामले में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और अमेरिकी ट्रेजरी विभाग की रिपोर्ट में दाऊद इब्राहिम की अफ्रीका में गतिविधियों के बारे में विशेष रूप से जिक्र किया गया है. हाल की रिपोर्ट में तंजानिया में दाऊद इब्राहिम के हीरे के कारोबार के बारे में भी उल्लेख किया गया है, जो उसका सहयोगी फिरोज चलाता है.

LEAVE A REPLY