महाराष्ट्र के गृह मंत्री इससे पहले भी कई बयानों को लेकर सुर्खियों में रह चुके हैं. हालांकि इस बार एक्टर विवेक ओबेरॉय और फिल्म निर्माता को लेकर उन्होंने बड़ा बयान दिया है. यह बयान बेंगलुरु पुलिस द्वारा ओबेरॉय के आवास पर छापे के बाद आया है.

नई दिल्लीः महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को एक्टर विवेक ओबेरॉय और फिल्म निर्माता संदीप सिंह को लेकर बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि, ‘बेंगलुरु पुलिस विवेक ओबेरॉय और फिल्म निर्माता संदीप सिंह के ड्रग कनेक्शन की जांच करने के लिए यहां आई है, लेकिन एनसीबी जांच नहीं कर रही है. हम एनसीबी से ड्रग कनेक्शन की जांच के लिए अनुरोध करेंगे और अगर फिर भी वह जांच नहीं करती, तो यह काम मुंबई पुलिस करेगी.’

गुरुवार को ओबेरॉय के घर पर बेंगलुरु पुलिस ने की थी छापेमारी

बेंगलुरु पुलिस ने एक्टर विवेक ओबेरॉय के एक रिश्तेदार आदित्य अल्वा की तलाश में मुंबई स्थित उनके आवास पर गुरुवार को छापेमारी की थी. बेंगलुरु के जॉइंट पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल ने बताया कि कोट्टोनपेट पुलिस थाने में दर्ज मादक पदार्थ मामले में अल्वा फरार चल रहा है. एक अन्य अधिकारी ने  बताया कि, ‘‘विवेक ओबेरॉय उनके (अल्वा) रिश्तेदार हैं और हमें सूचना मिली थी कि अल्वा वहां है. इसलिए अदालत का एक वारंट लिया गया और केन्द्रीय अपराध शाखा की टीम मुंबई में उनके आवास पर गई.’

सूत्रों की मानें तो पुलिस को लगा था कि ओबेरॉय के घर पर छापेमारी से अल्वा के बारे में कुछ जानकारी मिल सकती है, इसलिए यह कार्रवाई की गई. हालांकि किसी भी अधिकारी ने छापेमारी के दौरान मिली जानकारी के बारे में कुछ नहीं बताया. आदित्य अल्वा दिवंगत पूर्व मंत्री जीवराज अल्वा के पुत्र हैं.

बेंगलुरु पुलिस चला रही है अभियान

सूत्रों की मानें तो बेंगलुरु पुलिस के मादक पदार्थों की आपूर्ति करने वाले लोगों के खिलाफ एक अभियान शुरू किये जाने के बाद से अल्वा पिछले एक महीने से फरार है. इस मामले में कन्नड़ फिल्म अभिनेत्री रागिनी द्विवेदी समेत अब तक 15 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

LEAVE A REPLY