बड़ी लापरवाही-जिला शिक्षा अधिकारी ने BEO आष्टा और विद्यालय के प्राचार्य को थमाया कारण बताओ नोटिस
सीहोर/कमल पांचाल/ शिक्षा जगत को बदनाम करने में कोई कसर नही छोड़ने वाले आष्टा के शिक्षा विभाग के अधिकारियों का छात्रवृत्ति घोटाले कांड की आग ठंडी भी नही हुई थी कि उससे पहले फिर इनकी बड़ी लापरवाही सामने आई है दअरसल इस बार 12 वी के मेघावी छात्र के लेपटॉप की राशि अन्य व्यक्ति की खाते में डालने का बड़ा मामला सामने आया है ।
ज्ञात रहे कि एमपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में 80 फीसदी से ज़्यादा अंक लाने वाले मेधावी विद्यार्थियों को 25 सितम्बर को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकार की तरफ से लैपटॉप खरीदने के लिए 25 हजार रुपये की राशि सीधे खाते में डाली थी ।
दअरसल कोरोना संकट के बीच इस साल 12 वीं बोर्ड की परीक्षाएं हुई थीं।इसमें 80 परसेंट से पास हुए बच्चों को सरकार की ओर से लैपटॉप खरीदने के लिए 25 हजार रुपये और प्रशस्ति पत्र दिया ।इस साल ऐसे हजारो छात्रों के खाते में लैपटॉप खरीदने के लिए कुल 101 करोड़ की राशि डाली गई। प्रत्येक छात्र को लैपटॉप के लिए 25 हज़ार रुपए दिए गए हैं।
जिले के 1011 मेधावी विद्यार्थियों के खातों में अंतरित की जाएगी राशि
शुक्रवार 25 सितम्बर को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को लैपटॉप प्रदाय करने के लिए सिंगल क्लिक से 25 हजार रुपये की राशि जारी की और कक्षा 12 वीं में सर्वाधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किए।
वही सीहोर जिला मुख्यालय पर वीडियो कांफ्रेंसिंग हॉल में इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया था इस मौके पर सीहोर विधायक सीहोर सुदेश ने जिले के 5 मेधावी विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किये।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के 85 प्रतिशत अन्तर्गत 370 एवं 80 प्रतिशत अन्तर्गत 641 कुल 1011 मेधावी विद्यार्थियों को लेपटॉप क्रय करने के लिए 25 हजार रूपये की राशि अंतरित की जा रही है।
25 हजार की राशि दूसरे के खाते में डाल दी,BEO प्राचार्य को थमाया नोटिस
शिक्षा जगत में बदनाम आष्टा में अभी छात्रवृत्ति घोटाला कांड ठंडा भी नही हुआ था और दोषियों पर कार्यवाही भी नही हुई थी कि लेपटॉप राशि वितरण में बड़ी लापरवाही सामने आई है इस बार लेपटॉप राशि वितरण कार्यक्रम के तहत शिक्षा विभाग का फिर नया कारनामा सामने आया है
प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते दिनों हुई लेपटॉप राशि वितरण कार्यक्रम के दौरान आष्टा विकासखंड में 89 मेघावी छात्रों के खाते में लेपटॉप खरीदने के लिये 25 हजार रुपये की राशि डाली है वही आष्टा के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के मेघावी छात्र रोहित मेवाड़ा पिता ज्ञानसिंह मेवाड़ा रोल नंबर 206442659 की लेपटॉप की 25 हजार रुपये की राशि गलत बैंक जानकारी देकर अन्य व्यक्ति के खाते में डाल दी गई थी। लिहाजा इस घोर लापरवाही पर जिला शिक्षा अधिकारी एसपी सिंह बिसेन ने आष्टा विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह ठाकुर और शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय के प्राचार्य नारायण सिंह ठाकुर को कारण बताओ नोटिस भी थमाया है ।
लिहाजा उक्त कार्यक्रम में सीहोर कलेक्टर अजय गुप्ता, अपर कलेक्टर गुंचा सनोबर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत हर्ष सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी एसपी सिंह बिसेन सहित कई शिक्षा विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे। ज्ञात रहे कि अभी छात्रवृत्ति घोटाले में संकुल प्राचार्यो पर अब तक कोई बड़ी कार्यवाही नही हुई है अब देखना यह लाजमी होगा कि में सीहोर के यह बडे अफसर सिर्फ नोटिस जारी कर इतिश्री कर जांच के नाम पर लीपापोती का राग अलापते है या कोई बडी कार्यवाही होती है इस बार ।
इनका कहना
प्राचार्य और विकासखंड शिक्षा अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है वही जिसके खाते में राशि गई थी उस छात्र ने मेधावी छात्र को राशि भी लौटा दी है और आगे से सावधानी बरतने की बात कही गई है ।
एसपी सिंह बिसेन जिला शिक्षा अधिकारी

LEAVE A REPLY