योगी आदित्यनाथ ने संपर्क का पता लगाने, निगरानी और घर-घर सर्वेक्षण के कार्य को तेजी से संचालित करने के निर्देश भी दिए हैं.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कोविड-19 टेस्टिंग क्षमता को शीघ्र बढ़ाकर डेढ़ लाख टेस्ट प्रतिदिन किए जाने के निर्देश दिए हैं. योगी ने कहा कि जब तक कोविड-19 की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती है, तब तक अधिक से अधिक टेस्टिंग ही इसके खिलाफ सबसे बड़ा हथियार है. इसलिए टेस्टिंग कार्य में वृद्धि के प्रयास लगातार जारी रखे जाएं.

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाजार सुबह नौ बजे से रात्रि नौ बजे तक खुलें, प्रदेश में बाजारों की साप्ताहिक बन्दी रविवार को निर्धारित की जाए. योगी मंगलवार को एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि जनपद लखनऊ में विशेषज्ञ चिकित्सकों की एक टीम गठित की जाए, जो डिजिटल प्लेटफॉर्म पर जनता की स्वास्थ्य सम्बन्धी दिक्कतों को दूर करने में परामर्श प्रदान करे.

 

योगी आदित्यनाथ ने संपर्क का पता लगाने, निगरानी और घर-घर सर्वेक्षण के कार्य को तेजी से संचालित करने के निर्देश भी दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्त जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्सा अधिकारी सुबह कोविड चिकित्सालय में व शाम को इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल केंद्र में नियमित रूप से बैठक कर कार्यों की समीक्षा करें और आगे की रणनीति बनाएं. उन्होंने पुलिस को गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए.

 

रविवार को जारी हुई अनलॉक-4 की गाइडलाइंस

 

इससे पहले रविवार को योगी सरकार ने अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी की थी. इसके तहत कंटेनमेंट जोन के बाहर डीएम स्थानीय स्तर पर कोई लॉकडाउन नहीं करेंगे. राज्य के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने सभी मंडलों और जिलों के प्रशासन-पुलिस के अफसरों को इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश भेजे थे. इसमें कहा गया है कि कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 30 सितंबर तक जारी रहेगा. इस दौरान सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल और थिएटर भी बंद रहेंगे. अंतिम संस्कार में 20 और शादी में 30 लोगों तक ही भागीदारी की व्यवस्था 20 सितंबर तक जारी रहेगी. 21 सितंबर से शुरू होने वाली सेवाओं के लिए प्रोटाकॉल अलग से जारी होंगे.

LEAVE A REPLY