मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने उच्च स्तरीय बैठक के बाद कहा कि करीब 18 लोगों की मौत हो गई और 149 का मलप्पुरम और कोझिकोड जिले के अलग अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है.

नई दिल्ली: केरल के कारीपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर हादसे का शिकार हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमान में जितने यात्री भी सवार थे, उन सभी का कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा. केरल सीएमओ ने बताया है कि कोरोना जांच उन लोगों की भी की जाएगी, जिन्होंने इस हादसे में अपनी जान गंवा दी है. सीएमओ के मुताबिक विमान में मौजूद एक व्यक्ति का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है.

 

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने विमान हादसे में जान गंवाने वालों के लिए 10 लाख रुपये के मुआवज़े का एलान किया है. उन्होंने कहा है कि पीड़ितों को हर्जाने देने के अलावा राज्य सरकार घायलों के इलाज का भी सारा खर्चा उठाएगी.

 

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने उच्च स्तरीय बैठक के बाद कहा कि करीब 18 लोगों की मौत हो गई और 149 का मलप्पुरम और कोझिकोड जिले के अलग अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है. बैठक में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान भी मौजूद रहे.

 

मुख्यमंत्री विजयन ने बताया कि जिन 18 लोगों की मौत हुई है, उनमें 14 वयस्क हैं और चार बच्चे हैं. विजयन ने कहा, ‘‘14 वयस्कों में सात पुरुष और अन्य महिलाएं हैं. वर्तमान में मलप्पुरम और कोझिकोड जिले के विभिन्न अस्पतालों में 149 लोगों का इलाज चल रहा है, जिनमें 23 की हालत गंभीर है.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘इससे पहले 23 लोगों को प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई.’’

 

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने किया मुआवजे का एलान
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा अंतरिम राहत के रूप में हम प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख रुपये और मामूली चोटों वालों को 50,000 रुपये का भुगतान करेंगे. हरदीप सिंह पुरी कल शाम हुई विमान दुर्घटना के बाद हालात और राहत उपायों का जायज़ा लेने के लिए कोझिकोड कोझिकोड पहुंचे हैं. वरिष्ठ नागरिक उड्डयन अधिकारियों और पेशेवरों के साथ विचार-विमर्श करेंगे.

 

कैसे हुआ हादसा?
बता दें कि शुक्रवार की शाम अनुभवी पायलट डीवी साठे और सह-पायलट अखिलेश कुमार द्वारा संचालित यह विमान हवाई अड्डे के रनवे से फिसलने के बाद 35 फीट नीचे गिर गया था. इस हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 123 यात्री घायल हो गए हैं. घायलों में से कुछ की हालत गंभीर है और उनका यहां की विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है.

LEAVE A REPLY