सहवाग के अलावा इस साल हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह और रियो पैरालम्पिक खेलों में रजत पदक जीतने वाली दीपा मलिक भी कमेटी का हिस्सा होंगी.

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को इस साल दिए जाने वाले राष्ट्रीय खेल पुरस्कार की चयम समिति में जगह मिली है. सहवाग के अलावा भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह व रियो पैरालम्पिक खेलों में रजत पदक जीतने वाली दीपा मलिक इस साल राष्ट्रीय खेल पुरस्कार की चयम समिति का हिस्सा बनेंगी. खेल मंत्रालय ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी.

इस समिति की अध्यक्षता सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड न्यायाधीश मुकुंदकम शर्मा करेंगे. इसमें अर्जुन अवार्ड विजेता पूर्व टेबल टेनिस खिलाड़ी मोनालिसा बरुआ और 1995 में अजुर्न अवार्ड जीतने वाले पूर्व मुक्केबाज वेंकटेश देवराजन के नाम शामिल हैं. समिति राजीव गांधी खेल रत्न, द्रोणाचार्य अवार्ड, अर्जुन अवार्ड, ध्यानचंद अवार्ड, राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार और मौलाना अबुल कलाम आजाद ट्रॉफी-2020 के लिए खिलाड़ियों का चयन करेगी.

इस समिति में खेल मंत्रालय से साई के महानिदेशक संदीप प्रधान, संयुक्त सचिव (खेल विकास) एलएस सिंह, टारगेट ओलम्पिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कमांडर राजेश राजागोपालन के नाम शामिल हैं.

समिति में खेल कमेंटेटर मनीश वाटाविया के अलावा अलोक सिन्हा और नीरू भाटिया के रूप में दो पत्रकारों को भी शामिल किया गया है. द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए प्रतिभागी चुनने के लिए दो अतिरिक्त सदस्यों को, जिन्होंने द्रोणाचार्य अवार्ड जीता हो, चेयरपर्सन द्वारा चुना जाएगा.

LEAVE A REPLY