पॉन्टिंग अपने नाम दो वर्ल्ड कप खिताब कर चुके हैं जिसमें साल 2003 और साल 2007 का वर्ल्ड कप शामिल है. इस दौरान पॉन्टिंग की कप्तानी का दबदबा 2000 दशक के दौरान खूब रहा.

जब शाहिद अफरीदी से पूछा गया कि एमएस धोनी और रिकी पॉन्टिंग के बीच कौन बेहतर कप्तान है, तो पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने इस बारे में ज्यादा बात नहीं की लेकिन उन्होंने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के मुकाबले भारतीय कप्तान को ज्यादा तवज्जो दी.

धोनी और पॉन्टिंग, यकीनन खेल के इतिहास के सबसे सफल कप्तानों में से हैं. दोनों के नाम दो विश्व कप खिताब हैं. धोनी ने 2011 विश्व कप अपने नाम करने से पहले 2007 में उद्घाटन टी20 विश्व कप जीता था जिमसें उन्होंने भारत का नेतृत्व किया. वह सभी प्रमुख आईसीसी ट्रॉफी (50 ओवर का विश्व कप, टी 20 विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी) जीतने वाले एकमात्र कप्तान बने हुए हैं.

तो वहीं पॉन्टिंग अपने नाम दो वर्ल्ड कप खिताब कर चुके हैं जिसमें साल 2003 और साल 2007 का वर्ल्ड कप शामिल है. इस दौरान पॉन्टिंग की कप्तानी का दबदबा 2000 दशक के दौरान खूब रहा. ट्विटर पर एक इंट्रैक्टिव सेशन के दौरान अपने फैंस से बात करते हुए अफरीदी ने कहा कि, पॉन्टिंग से बेहतर कप्तान धोनी हैं क्योंकि उन्होंने एक ऐसी नई टीम बनाई जिसमें युवा शामिल थे. ऐसे में फैन का जवाब देते हुए अफरीदी ने कहा कि मैं धोनी को पॉन्टिंग से एक कदम आगे रखना चाहूंगा.

अफरीदी हाल ही में कोरोना वायरस का शिकार हुए थे जहां अब वो पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं. उन्होंने विव रिचर्ड्स को अपना सबसे पसंदीदा बल्लेबाज बताया है. तो वहीं अब्दुल कादिर को अपना ऑल टाइम पसंदीदा स्पिनर. वर्तमान में सबसे बेस्ट तेज गेंदबाज के मामले में उन्होंने पैट कमिंस का नाम लिया.

LEAVE A REPLY