मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज के अलावा उनकी कैबिनेट के तीन मंत्रियों को अबतक कोरोना हो चुका है. वहीं आठ विधायक भी कोरोना के चपेट में आ चुके हैं.

भोपालः मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है. मध्य प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और उनकी पत्नी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. राज्य में तीन मंत्री, आठ विधायक अबतक कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. सूबे के मुखिया सीएम शिवराज सिंह चौहान के अलावा पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है.

मध्य प्रदेश में पहली बार मंत्री बने राज्य के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया को भी कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है

ये विधायक हो चुके है संक्रमित
मध्य प्रदेश में अरविंद भदौरिया के पहले कई विधायक और नेता कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं. जिनमें धार विधायक नीना वर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री विक्रम वर्मा, जावद विधायक ओमप्रकाश सकलेचा, कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी, जबलपुर से लखन घनघोरिया, सिरमौर से विधायक दिव्यराज सिंह भी शामिल हैं. इनमें से ज्यादातर इलाज के बाद स्वस्थ हो गए हैं और कुछ का इलाज चल रहा है.

तुलसीराम सिलावट ने खुद दी थी जानकारी

बीजेपी के राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया के वफादार समर्थक माने जाने वाले सिलावट ने मंगलवार देर रात ट्विटर पर खुद यह जानकारी दी.

जल संसाधन मंत्री ने ट्वीट किया, “कोई लक्षण नहीं होने पर भी मुख्यमंत्री (शिवराज सिंह चौहान) के निर्देश पर मैंने कोविड-19 जांच करायी थी. मेरी और मेरी धर्मपत्नी की रिपोर्ट पॉजीटिव आयी है. मुझे विश्वास है कि आप सबकी शुभकामनाओं से हम कोरोना (वायरस) को हरायेंगे और फिर उसी संकल्प से कार्यक्षेत्र में उतरेंगे. मेरा साथियों से आग्रह है कि वे भी (कोविड-19) जांच करायें.”

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “डॉक्टरों के निर्देश पर हम लोग अपने घर के अलग कमरे में रहेंगे. मुझसे निकट संपर्क में रहने वाले लोग भी अपने घरों में पृथक-वास में रहें.”

LEAVE A REPLY