,मुंबई महाराष्ट्र से बीजेपी विधायक नितेश राणे ने एक ट्वीट कर राज्य के एक अस्पताल की हालात के बारे में बताया है कि कैसे एक ही वॉर्ड में बॉडी बैग पड़े है और वहीं मरीजों को भी इलाज के लिए भर्ती किया गया है। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले भी नितेश राणे ने एक वीडियो शेयर कर कहा था कि बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) मरीजों की सुरक्षा पर ध्यान नहीं देती। इस वीडियो में मुंबई के सायन इलाके में लोकमान्य तिलक म्युनिसिपल जनरल अस्पताल में इलाज करा रहे कोविड-19 मरीजों के पास कथित तौर पर कुछ शव रखे दिखाई दिए थे।

राणे द्वारा ट्वीट किए गए एक वीडियो में मुंबई के KEM अस्पताल के एक वार्ड में मरीजों के बगल में बॉडी बैग पड़े हुए दिखाए गए। वार्ड में बॉडी बैग होने की परिस्थिति पर KEM अस्पताल ने अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है।

राणे ने इस ट्वीट को बीएमसी को टैग करते हुए लिखा है कि आज सुबह 7 बजे केईएम अस्पताल! मुझे लगता है। बीएमसी चाहता है कि उपचार के दौरान हमें अपने आस-पास शवों को देखने की आदत हो जाए, क्योंकि वो इसमें सुधार नहीं करना चाहते हैं! स्वास्थ्य कर्मियों के लिए भी बुरा महसूस करें जो ऐसी परिस्थितियों में काम कर रहे हैं।  क्या कोई उम्मीद है?

nitesh rane

@NiteshNRane

KEM hospital today at 7 am !
I think the @mybmc wants us to get used to seeing dead bodies around us while taking treatment bcz they just don’t want to improve!
Feel bad for the health workers too who hv to work in such conditions!!
Is there any hope ?

एम्बेडेड वीडियो

वहीं शिवसेना  के अनिल देसाई ने कहा कि अगर इस तरह का कोई भी वीडियो (KEM अस्पताल) सोशल मीडिया पर वायरल होता है, तो ये घटना उसी क्षण हुई होगी और तुरंत सुधारात्मक उपाय किए गए होंगे। सभी अधिकारी कुशलता से काम कर रहे हैं। किसी को बदनाम करने की कोई जरूरत नहीं है।

LEAVE A REPLY