लंदन ब्रिटेन की सरकार ने स्वीकार किया है कि उसने ब्रिटिश प्रयोगशालाओं में परिचालन संबंधी मुद्दों के बाद प्रसंस्करण के लिए अमेरिका में लगभग 50,000 नमूने कोरोनावायरस परीक्षण के लिए भेजे हैं। बीबीसी ने बताया, स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि विदेशों में स्वाब भेजना शुरुआती समस्याओं से निपटने की आकस्मिकताओं में से एक था। संडे टेलीग्राफ ने एक रिपोर्ट में कहा कि नमूने स्टैन्स्टेड हवाईअड्डे से चार्टर्ड उड़ानों के जरिए अमेरिका भेजे गए थे।

इन परीक्षण की रिपोर्ट को ब्रिटेन में मान्य किया जाएगा और जितनी जल्दी हो सके इन्हें रोगियों को भेजा जाएगा। स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल विभाग (डीएचएससी) के एक प्रवक्ता ने कहा कि ब्रिटेन के वायरस परीक्षण नेटवर्क का विस्तार करने के लिए और पूरी तरह से नया लैब नेटवर्क स्थापित करना के लिए नूमने जांच के लिए भेजना जरूरी था।

यह रहस्योद्घाटन तब हुआ, जब सरकार, स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक द्वारा तय किए गए निधार्िरत 1,00,000 दैनिक परीक्षण लक्ष्य को पूरा करने में सातवें दिन भी विफल रही। बीबीसी ने कहा कि शुक्रवार को सुबह 9 बजे से लेकर अगले दिन सुबह 9 बजे तक 24 घंटे में 96,878 टेस्ट दिए गए थे, जो कि उससे पहले के दिन के 97,029 से कम थे। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि उनकी महत्वाकांक्षा इस महीने के अंत तक 2,00,000 परीक्षणों को हिट करने की थी और फिर उससे भी बड़े लक्ष्य को छूने की थी।

रविवार तक ब्रिटेन में कोविड-19 के कुल मामले 2,16,525 थे। वहां अब तक 31,662 मौतें हो चुकी हैं, जो कि वर्तमान में यूरोप में सबसे अधिक संख्या है।

ब्रिटेन में लॉकडाउन बढ़ाए जाने की उम्मीद, जॉनसन ने तय की आगे की रूपरेखा
ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन रविवार की शाम जब लोगों को संबोधित करेंगे तो उम्मीद है कि अन्य राष्ट्रों से इतर वह देश में जारी कोरोना वायरस लॉकडाउन की पाबंदियों को तीन और हफ्ते के लिये बढ़ाने की घोषणा करें। जॉनसन ने संकेत दिये थे कि सोमवार से बंद के नियमों में कुछ बदलाव हो सकता है और इसके बाद करीब एक हफ्ते तक ऐसे मिलेजुले संकेत आते रहे, लेकिन सरकार ने अब इन अटकलों पर विराम लगाने की बात कही है क्योंकि पाबंदियों में रियायत की बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है। इसकी वजह यह है कि ब्रिटेन में अब भी कोरोना वायरस संक्रमण के काफी मामले मिल रहे हैं जबकि 31,662 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

परिवहन मंत्री ग्रांट शैप्स ने शनिवार को कहा कि इसमें अत्यधिक सावधानी बरते जाने की जरूरत है। उनका यह बयान ब्रिटिश पुलिस की उस चेतावनी के बाद आया है जिसमें उसने कहा था कि वो “हारी हुई जंग लड़ रहे हैं” क्योंकि लंदन के लोग पार्कों में जा रहे हैं, दक्षिणी इंग्लैंड के तटीय क्षेत्रों में पहुंच रहे हैं और कई लोग उन यात्राओं पर जा रहे हैं जिन्हें बंद के दौरान अनावश्यक माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY