श्रीनगर कोरोना वायरस के वैश्विक कहर के बीच गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 महामारी से मौत का पहला मामला सामने आया है। जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस से 65 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई है और हैरानी की बात यह है कि इस शख्स के संपर्क में आने वाले चार लोग भी संक्रमित हो गए हैं। बता दें कि देशभर में कोरोना वायरस से मौत की संख्या बढ़कर अब 12 हो गई है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव रोहित कंसल ने बताया कि श्रीनगर में एक 65 साल के बुजुर्ग की कोरोना वायरस की वजह से मौत हो गई। इस शख्स के संपर्क में आने वाले चार लोग कल कोरोना के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं, श्रीनगर के मेयर जुनैद अजीम मट्टू ने ट्वीट किया, ‘कोविड-19 से पहली मौत की दुखद खबर साझा करने के साथ मेरी संवेदनाएं मृतक के परिवार के प्रति हैं। हम आपके साथ हैं और आपका दुख समझते हैं।’

A 65-year-old man from Hyderpora, Srinagar passes away due to Coronavirus; Four of his contacts also tested positive yesterday: J&K Principal Secretary (Planning Commission) Rohit Kansal (file pic)

Twitter पर छबि देखें

जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस से चार लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद बुधवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 11 हो गए। कश्मीर में अधिकारियों ने आशंका जताई है कि घाटी में मामले ज्यादा हो सकते हैं क्योंकि कई लोगों ने अपने यात्रा इतिहास के बारे में जानकारी छिपाई है। बुधवार को सरकार के बुलेटिन के अनुसार, जम्मू कश्मीर में संदिग्ध और संक्रमित लोगों के संपर्क में आए 5,124 यात्रियों और लोगों को निगरानी में रखा गया है।

इनमें से 3,061 लोग घर में पृथक रह रहे हैं (सरकार द्वारा चलाए जा रहे पृथक केंद्र समेत), 80 लोग अस्पताल में पृथक हैं और 1,477 लोग घर में निगरानी में रह रहे हैं। कश्मीर में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए आवाजाही पर लगाई गई पाबंदियां बुधवार को और कड़ी कर दी गईं।

दरअसल, भारत में कोरोना वायरस की सक्रियतता भयानक होती जा रही है। दरअसल संक्रमण अब देश में तेजी से फैल रहा है। अभी तक देश में इससे 12 लोगों की मौत हो चुकी है। राजधानी में मौत का दूसरा मामला सामने आया। वहीं, तमिलनाडु में भी एक मौत हुई है। इसके साथ ही देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 606 हो गई। कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में बुधवार से 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। पीएम मोदी ने मंगलवार रात लॉकडाउन की घोषणा करते हुए लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने को कहा था। उन्होंने कहा कि यह लॉकडाउन कर्फ्यू जैसा ही होगा हालांकि, जरूरी सेवाओं की चीजें पहले की तरह ही चलती रहेंगी। इसको लेकर गृहमंत्रालय ने छह पन्नों वाली गाइडलाइन भी जारी की है।

LEAVE A REPLY