कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद को ‘वॉर-टाइम प्रेसिडेंट’ बताते हुए घोषणा की है कि वह आपातकालीन शक्तियों का इस्तेमाल करेंगे.

न्यूयॉर्क: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद को ‘वॉर-टाइम प्रेसिडेंट’ बताते हुए घोषणा की है कि वह आपातकालीन शक्तियों का इस्तेमाल करेंगे. इसके माध्यम से उन्हें निजी क्षेत्र की क्षमता का उपयोग करने की अनुमति मिल जाएगी. यह निर्णय उन्होंने कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रभाव के चलते किया है.

कोविड-19 संक्रमण के चलते अमेरिका में 130 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, कोविड-19 के मामलों में वृद्धि देखने को मिली है इसलिए मैं डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट का इस्तेमाल कर रहा हूं. हमें इसकी जरूरत पड़ सकती है. इन आपातकालीन शक्तियों के माध्यम से ट्रंप प्रशासन को राष्ट्रीय संकट के समय में आवश्यक सामग्रियों का तेजी से उत्पादन करने के लिए देश के स्थापित औद्योगिक आधार को अपने नियंत्रण में लेने की अनुमति प्राप्त हो गई है.

व्हाइट हाउस में बुधवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने इसे चीनी वायरस के खिलाफ अमेरिका की जंग करार दिया. उन्होंने कहा, चीनी वायरस इज लाइक अ वॉर. यह बेहद मुश्किल परिस्थिति है. अमेरिका में कोविड-19 से संक्रमित ज्यादातर मामले न्यूयॉर्क शहर से सामने आए हैं. ऐसे में राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि वह न्यूयॉर्क शहर में एक नेवी हॉस्पिटल शिप भेज रहे हैं.

इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने दुनिया के सबसे बड़े बॉर्डर अमेरिक-कनाडा सीमा को बंद करने का निर्णय किया और इस बाबत घोषणा भी की थी कि आवश्यक कर्मियों और व्यापार पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा.

LEAVE A REPLY