• मुख्यमंत्री मिंटो हॉल में आयोजित कार्यशाला के उद्घाटन में हिस्सा लेने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे
  • सिंधिया ने कहा था- घोषणापत्र के वादे पूरे नहीं हुए तो सड़कों पर उतरेंगे, इस पर नाथ ने कहा था- उतर जाएं
  • भोपाल. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया से नाराजगी के सवाल पर ठहाका लगाकर नाथ ने कहा- ‘मैं कभी किसी से नाराज नहीं होता हूं। मैं कभी शिवराज सिंह से नाराज नहीं हुआ तो सिंधिया से क्यों होऊंगा।’ मुख्यमंत्री ने कहा- ‘अगर वो कह रहे हैं, तो मैंने जो कहा, कह दिया। इसमें कौन-सी बड़ी बात है।’ उन्होंने दोहराया- मध्य प्रदेश में फिलहाल नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (एनपीआर) लागू नहीं किया जाएगा।

    ऑल्टरनेट प्रोजेक्ट फाइनेंसिंग वर्कशॉप में शामिल हुए नाथ
    कमलनाथ ने यहां मिंटो हॉल में वैकल्पिक वित्तीय प्रबंधन से संबंधित एक दिवसीय कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में शामिल होने पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि कैसे राज्य में वित्तीय संसाधन बढ़ाए जाएं, इसके लिए यह कार्यशाला आयोजित की गई है। देश-प्रदेश में वित्तीय हालात बदले हैं। इनके मद्देनजर नए विकल्पों पर विचार किया जाना जरूरी है।

    सिंधिया ने टीकमगढ़ में सड़क पर उतरने का बयान दिया था
    पिछले सप्ताह सिंधिया ने टीकमगढ़ में कहा था कि घोषणा पत्र में किया गया एक-एक वाक्य पूरा न हुआ तो वे सड़कों पर उतरेंगे। उन्होंने यह बात अतिथि शिक्षकों के नियमितीकरण को लेकर कही थी। इसके जवाब में शनिवार को दिल्ली में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कोऑर्डिनेशन कमेटी की मीटिंग के बाद तल्ख लहजे में कहा था कि सिंधिया को सड़कों पर उतरना है तो उतरें।

LEAVE A REPLY