राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे ने महाराष्ट्र सरकार गठित होने के मामले में दावा किया है कि अजित पवार के साथ मिल कर भाजपा पांच साल स्थिर सरकार देगी.

चंडीगढ़: राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे ने महाराष्ट्र सरकार गठित होने के मामले में दावा किया है कि अजित पवार के साथ मिल कर भाजपा पांच साल स्थिर सरकार देगी. उन्होंने यह भी कहा कि फ्लोर टेस्ट में भी वो सफल रहेंगे. डाक्टर विनय सहस्त्रबुद्धे चंडीगढ़ में थे.  उन्होंने शिव सेना पर निशाना साधते हुए कहा कि वोट देवेंद्र फडणवीस और और नरेंद्र मोदी के नाम पर हासिल किये और गले किसी और को लगाया. डाक्टर सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि महाराष्ट्र में अनैसर्गिक गठबंधन स्थापित करके की कोशिश की गई.

उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए डॉकटर सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि उन्होंने असमजंस की स्थिति में लिए गए फैसले का उनको पछतावा हो रहा होगा. उन्होंने नसीहत दी कि जूनियर पार्टी को मुख्य मंत्री पद की लालसा नहीं रखनी चाहिए.  उन्होंने कहा है कि भाजपा जहां भी जूनियर पार्टी की भूमिका में होती है वहां मुख्य मंत्री पद की लालसा नहीं करती.

पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन का हवाला देते हुए डॉक्टर सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि पंजाब में हमने अकाली दल के साथ गठबंधन में सरकार बनाई मगर जूनियर पार्टी होने के नाते मुख्य मंत्री पद की मांग नहीं की. सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार बनना पहले से तय था क्योंकि भाजपा ने अधिक सीटों पर चुनाव लड़ा था.

उन्होंने कहा कि गठबंधन में पहले ही भाजपा का मुख्यमंत्री बनना तय था पर शिवसेना अन्य पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाना चाहते थे जोकि सुडो पॉलिटिक्स के तहत हो नहीं पाया और भाजपा ने सुबह-सुबह सरकार बना ली उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया है चलती रहती है कांग्रेस ने भी तो अपनी राज में इमरजेंसी के समय ऐसे बहुत से काम किए थे तो एक आधा काम तो बीजेपी भी कर ही सकती है.

उन्होंने कहा विपक्ष में अभी कड़वाहट है इसलिए वह लोटस की बात कर रही है अगर फ्लोर टेस्ट की नौबत आती है तो बीजेपी वह भी पार कर जाएगी.

LEAVE A REPLY