भोपाल। बुधवार को कमलनाथ सरकार में खेलमंत्री जीतू पटवारी से मिलने के बाद आज गुरुवार को भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा से मिलने उनके बंगले पर पहुंचे। उनके साथ पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक विश्वास सारंग भी साथ पहुंचे। हालांकि तीनों के बीच क्या बात हुई इसका खुलासा नही हो पाया । त्रिपाठी ने इस मुलाकात को सौजन्य बताया वही मंत्री जीतू से हुई मुलाकात को लेकर बड़ा बयान जरुर दिया।उन्होंने कहा कि मैं सभी मंत्रियों से मुलाकात करुंगा।सभी दलों से मेरे अच्छे संबंध है, जिसको जो सोचना है सोचे, मैं कोई सफाई देना नही चाहता।

मीडिया से चर्चा करते हुए त्रिपाठी ने कहा कि मेरी नरोत्तम मिश्रा से सौजन्य मुलाकात है। आगे भी मैं सबसे मिलता रहूंगा।जीतू से मुलाकात को लेकर कहा कि क्षेत्र के विकास कार्यो के लिए वो मंत्री से मिले थे। जो भी मंत्री यहां रहेगा उन सबसे मिलूंगा, अब वन मंत्री उमंग सिंघार और सज्जन सिंह वर्मा से भी मुलाकात करनी है। इसके बाद नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से मुलाकात कर विकास कार्यो के लिए 9 करोड़ की राशि मांगूगा ।

त्रिपाठी ने आगे कहा कि सभी दलों से मेरे अच्छे संबंध है। पहले मैं सपा में था फिर कांग्रेस में और अब बीजेपी के साथ हूं। मैं कहीं भी जाऊं-किसी से भी मिलूं, सब यही सोचेंगे कि मैं दलबदल की तैयारी में हूं। मैं सफाई नहीं देना चाहता, लेकिन परिस्थितियों के हिसाब से फैसला करता हूं, जो भी स्थितियां होंगी उसके हिसाब से निर्णय लेता हूं। मेरे लिए मेरे क्षेत्र का विकास सबसे बड़ा है। क्षेत्र के विकास के लिए सबसे मिलता रहूंगा।फिलहाल तो भाजपा में हूं भाजपा में ही रहूंगा।

बता दे कि नारायण त्रिपाठी वही है जिन्होंने पिछले दिनों विधानसभा में एक विधेयक पर क्रॉस वोटिंग की थी।इसके बाद से ही चर्चा शुरु हो गई थी कि वे बीजेपी का साथ छोड़ कांग्रेस में शामिल हो सकते है।हालांकि ऐसा हुआ नही। लेकिन बुधवार को मंत्री जीतू पटवारी से मिलने के बाद एक बार फिर चर्चाएं शुरु हो गई है, जिस पर उन्होंने आज बयान देकर विराम लगा दिया है।

LEAVE A REPLY