‘राष्ट्रीय महात्मा गांधी अलंकरण समारोह  को मुख्यमंत्री ने किया संबोधित
/समय जगत, भोपाल/ मुख्यमंत्री कमल नाथ ने देश की युवा पीढ़ी का आव्हान किया है कि वे गाँधी जी के मूल्यों और सिद्धांतों को अपनाएँ तथा जीवन में उस पर अमल करें। उन्होंने कहा कि गाँधी जी के मूल्यों को सुरक्षित रखकर ही हम मानव जाति को संकट से बचा सकते हैं। श्री कमल नाथ गाँधी जयंती पर संस्कृति विभाग द्वारा भारत भवन में आयोजित गाँधी पर्व समारोह का शुभारंभ कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गाँधी ने पूरे विश्व को अपने विचारों, सिद्धांतों और मूल्यों से जोड़ा। उनका सम्पूर्ण जीवन भारतीय संस्कृति में रचा-बसा था। वे अपने कर्म और आचरण को समान रखते थे। उन्होंने एक साधारण लिबास के जरिए न केवल हिन्दुस्तान में अहिंसक क्रांति की बल्कि पूरी दुनिया को अपनी ओर आकर्षित किया। मुख्यमंत्री ने युवा पीढ़ी से कहा कि वे गाँधी को जानें तथा उनकी सोच और विचार में भारतीय संस्कृति और उसकी विविधता, सद्भाव, समानता तथा एकता का समावेश है। उन्होंने कहा कि गाँधी जी को अपने जीवन में अपनाने से न केवल अपने देश को बल्कि दुनिया को विभिन्न संकटों से मुक्ति दिला सकेंगे।
संस्कृति मंत्री डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ ने कहा कि बापू नाम के छोटे से शब्द में पूरे हिन्दुस्तान और दुनिया को हिला कर रख दिया था। उन्होंने कहा कि आज जब विश्व में हथियारों की होड़, आतंकवाद और धार्मिक उन्माद की चुनौतियाँ सामने हों, तब हमें राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के विचार प्रासंगिक लगते हैं। उन्होंने बताया कि गाँधी जी जन-जन तक पहुंचे, इसके लिए संस्कृति विभाग द्वारा रचनात्मक गतिविधियों के जरिए पूरे प्रदेश में कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम के दौरान विभिन्न बोलियों में जो राष्ट्रभक्ति के गीत गाये जा रहे थे, उनका दस्तावेजीकरण भी किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने गाँधी पर्व पर फिर गाँधी कला प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। प्रदर्शनी में गाँधी जी के जीवन और विचारों पर आधारित चित्र, शिल्प और पोस्टर प्रदर्शित किये गये। प्रदर्शनी में गाँधी जी को आधुनिक तकनीक के जरिए आम लोगों तक पहुंचाने से संबंधित श्री सुबोध केरकर द्वारा बनाये गये एप को भी रेखांकित किया गया है।

LEAVE A REPLY