बाबरी विध्वंस (Babri demolition) मामले की सुनवाई कर रहे CBI जज एसके यादव का कार्यकाल बढ़ा दिया गया है. अयोध्या प्रकरण में स्पेशल जज ने सीबीआई से कल्याण सिंह (Kalyan singh) पर रिपोर्ट मांगी है.

नई दिल्ली: बाबरी विध्वंस (Babri demolition) मामले की सुनवाई कर रहे CBI जज एसके यादव का कार्यकाल बढ़ा दिया गया है. इस मामले की सुनवाई अप्रैल 2020 तक पूरी होनी है. उत्तर प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर दिया है. दरअसल, पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने स्पेशल सीबीआई जज एसके यादव को अप्रैल 2020 तक मामले सुनवाई पूरी कर फैसला सुनाने को कहा था. बाबरी मस्जिद मामले में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, पूर्व सीएम उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा, महंत नृत्यगोपाल दास समेत कई पर मुकदमा चल रहा है.

जज ने कल्याण सिंह ने पर रिपोर्ट मांगी
अयोध्या प्रकरण में स्पेशल जज ने सीबीआई से कल्याण सिंह (Kalyan singh) पर रिपोर्ट मांगी है. सीबीआई के आवेदन पर बुधवार को सुनवाई हुई. आज कोर्ट ने सीबीआई से कल्याण सिंह की गवर्नरशिप पर रिपोर्ट मांगी है. कोर्ट ने सीबीआई से कहा कि भाजपा नेता कल्याण सिंह अब राजस्थान के राज्यपाल नहीं हैं, तो इस पर रिपोर्ट दें. विशेष न्यायाधीश सुरेन्द्र कुमार यादव की ओर से यह आदेश जांच एजेंसी सीबीआई के अर्जी पर आदेश दिए, जिसमें कल्याण सिंह पर बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में मुकदमा चलाने के लिए निवेदन किया गया था.

LEAVE A REPLY