टीम के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन हार को टाल नहीं सके और टीम वर्ल्ड कप से बाहर हो गई.

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup 2019) के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में टीम इंडिया को एक रोमांचक मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. टीम के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी ने अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन दोनों ही खिलाड़ी हार को टाल नहीं सके और टीम वर्ल्ड कप से बाहर हो गई. इस अप्रत्याशित हार की वजह से रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) बुरी तरह टूट गए थे. यह खुलासा उनकी पत्नी रिवाबा जडेजा ने किया.

रिवाबा ने बताया, “वह (रवींद्र जडेजा) हार के बाद बहुत दुखी थे और बार-बार कहते रहे, ‘अगर मैं आउट नहीं होता, तो हम जीत सकते थे. जब आप इतने करीब आने के बाद एक मैच हार जाते हैं, तो यह वास्तव में दर्द होता है.”

रिवाबा ने आगे कहा, “यदि आप उनके सफर को देखते हैं, तो उन्होंने हमेशा फंसे हुए मैचों में अहम विकेट लेने और रन बनाने के लिए प्रदर्शन किया है. जब हमने 2013 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीती, तो वह अपने ऑल-राउंड प्रदर्शन के लिए फाइनल में मैन ऑफ द मैच थे.”

जडेजा का ट्वीट
गौरतलब है कि हार के बाद जडेजा ने सोशल मीडिया पर एक मैसेज पोस्ट किया था. उन्होंने लिखा, ”खेल ने मुझे हर बार गिरने के बाद उठते रहने और हार न मानने की सीख दी है. हर प्रशंसक को धन्यवाद नहीं दे सकता जो मेरी प्रेरणा का स्रोत रहा है. आपके सहयोग के लिए धन्यवाद. प्रेरणा देते रहो और मैं अपनी आखिरी सांस तक अपना सर्वश्रेष्ठ दूंगा. आप सभी को प्यार”

View image on Twitter

Ravindrasinh jadeja

@imjadeja

Sports has taught me to keep on rising after every fall & never to give up. Can’t thank enough each & every fan who has been my source of inspiration. Thank you for all your support. Keep inspiring & I will give my best till my last breath. Love you all

क्या हुआ था मैच में

दरअसल, इस मैच में 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने अपने छह विकेट महज 92 रनों पर ही खो दिए थे और हार की तरफ बढ़ रही थी. यहां से रवींद्र जडेजा (77) और महेंद्र सिंह धोनी (50) ने टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया, लेकिन अंत में बाउल्ट ने जडेजा और मार्टिन गुप्टिल ने डायरेक्ट हिट से धोनी को आउट कर भारत को हार की तरफ धकेल दिया.

साझेदारी का रिकॉर्ड
धोनी और जडेजा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सातवें विकेट के लिए विश्व कप में सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड बनाया. यह साझेदारी हालांकि भारत को जीत नहीं दिला सकी और कीवी टीम 18 रनों से मैच जीत लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची.

सेमीफाइनल से आगे नहीं जा पाई
भारत ने लगातार तीसरी बार सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. 2011 में विश्व विजेता बनी थी लेकिन 2015 और 2019 में वह सेमीफाइनल से आगे नहीं जा पाई.

LEAVE A REPLY