भारत से मैच के दौरान एडम जंपा का बार-बार जेब में हाथ डालना सुर्खियों में आ गया था. उन पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप तक लगाया था. 

नाटिंघम: भारत के खिलाफ विश्व कप मैच के दौरान ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर एडम जंपा का बार-बार जेब में हाथ डालना सुर्खियों में आ गया था. सोशल मीडिया में तो उन पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप तक लगा दिया गया था. खासकर  भारतीय प्रशंसकों ने उन्हें निशाना बनाया और मजाक उड़ाया. इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच को जंपा के समर्थन में सामने आना पड़ा था. और अब भारत के फील्डिंग कोच एस. श्रीधर ने भी जंपा का बचाव किया है.

दरअसल, जंपा उस मैच में ‘हैंडवार्मर’ का इस्तेमाल कर रहे थे. इंग्लैंड में इन दिनों बारिश हो रही है और खूब ठंड है. इस कारण खिलाड़ियों को ठंड से निपटने की अलग से तैयारी करनी पड़ रही है. भारतीय फील्डिंग कोच एस. श्रीधर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि बेशक हाथ गर्म रखने के लिए ‘हैंडवार्मर’ पहला विकल्प हैं. इसके अलवा एक क्षेत्ररक्षण स्थान से दूसरे तक दौड़ना या गेंद फेंकना भी शामिल है.’

इससे पहले एरॉन फिंच को भारत-ऑस्ट्रेलिया मैच के बाद ‘हैंडवार्मर’ के इस्तेमाल पर स्थिति स्पष्ट करनी पड़ी थी. उन्होंने कहा कि यह क्रिकेट उपकरण का हिस्सा है और खिलाड़ी इसका इस्तेमाल हाथ गर्म करने के लिए करते हैं. भारत ने इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हराया था.

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

 

भारत और न्यूजीलैंड का मैच गुरुवार को रद्द हो गया. यह मैच नॉटिंघम में होना था. यहां सोमवार से ही बारिश हो रही थी. इस कारण भारतीय खिलाड़ियों को ठंड से बचने के लिए वही उपाय अपनाने पड़े, जो एडम जंपा या कोई और खिलाड़ी अपनाता है. इसमें हैंडवार्मर का इस्तेमाल भी  शामिल है.

LEAVE A REPLY