15 जून को एससी आयोग के अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया और सचिव पश्चिम बंगाल में घटनास्थल का दौरा करेंगे.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के बाद से पश्चिम बंगाल में शुरू हुआ हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही में राज्य के 24 परगना जिले में 3 व्यक्तियों की हत्या के बाद हालात काफी बिगड़ गए हैं. पश्चिम बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच आए दिन झड़प की घटनाएं हो रही हैं. वहीं, पश्चिम बंगाल में हालिया हुई हत्याओं के खिलाफ अब एससी आयोग भी सख्त हो गया है. एससी आयोग ने 24 परगना ज़िले में 3 व्यक्तियों की हत्या पर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार से रिपोर्ट मांगी है.

वहीं, 15 जून को एससी आयोग के अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया और सचिव पश्चिम बंगाल में घटनास्थल का दौरा करेंगे. पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और डीजीपी को एससी आयोग ने 15 जून को तलब किया. रामशंकर कठेरिया ने Zee News से बातचीत में कहा कि हत्याओं के लिए पश्चिम बंगाल की सरकार दोषी है. 15 जून को दौरे के बाद आयोग आदेश देगा.

बता दें कि पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना के संदेशखाली में 9 जून को 3 व्यक्तियों की हत्या हुई थी. मृतकों के नाम- प्रदीप मंडल, स्वपन मंडल और सुकांत मंडल हैं.

LEAVE A REPLY