चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग आर्थिक ताकत दिखाने के लिए रूस की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में शुक्रवार को मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए.

मॉस्को : चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग आर्थिक ताकत दिखाने के लिए रूस की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में शुक्रवार को मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए. अमेरिका के साथ चल रहे तनाव के प्रति दोनों मुल्कों ने इस मंच के जरिए एकजुटता दिखाने की कोशिश की. शी रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ मुलाकात के लिए तीन दिवसीय दौरे पर बुधवार को मॉस्को पहुंचे और क्रेमलिन में हुई बैठक के दौरान रूसी नेता को अपना “सबसे अच्छा मित्र” बताया.

दौरे के समापन के वक्त शी और उनके मेजबान वार्षिक ‘सेंट पीटर्सबर्ग इकोनॉमिक फोरम’ के एक पूर्ण सत्र में नजर आएंगे. रूस को उम्मीद है कि इस मंच के जरिए वह अनिश्चित कारोबारी माहौल के बावजूद विदेशी निवेशकों को लुभाने में कामयाब रहेंगे. शी सतत विकास एवं बहुपक्षीय सहयोग पर चीन के विचार रखेंगे.

 

‘मैक्रो एडवाइसरी’ कंपनी के एक वरिष्ठ साझेदार क्रिस वीफर ने कहा कि 2019 का मंच, “बहुत स्पष्ट तौर पर बताएगा कि विश्व कितना द्विध्रुवीय हो गया है.” उन्होंने कहा, “इसी हफ्ते जब राष्ट्रपति ट्रंप लंदन में महारानी के साथ चाय पी रहे होंगे, राष्ट्रपति पुतिन सेंट पीटर्सबर्ग में राष्ट्रपति शी की मेजबानी कर रहे होंगे.”

इस बीच चीन अमेरिका के साथ व्यापार युद्ध में उलझा हुआ है. रूस और चीन के बीच आर्थिक संबंध हाल के कुछ वर्षों में बढ़े हैं हालांकि यह अधिकतर चीन के पक्ष में ही रहा है. शी के इस दौरे के दौरान ई-कॉमर्स, दूरसंचार, गैस एवं अन्य क्षेत्रों में दर्जनों व्यावसायिक करार किए जा चुके हैं. शी आर्थिक मंच पर पहली बार अपनी मौजूदगी भले ही दर्ज करा रहे हों लेकिन उनके और पुतिन के बीच हाल के कुछ सालों में लगातार मुलाकात होती रही है.

LEAVE A REPLY