आईपीएल-12 में कम से कम चार ऐसे खिलाड़ी रहे, जिनका प्रदर्शन टीम इंडिया की चिंता बढ़ा रहा होगा.

नई दिल्ली: चेन्नई पर मुंबई की शानदार जीत के साथ ही इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) को रविवार (12 मई) को नया चैंपियन मिल गया. इसके साथ ही क्रिकेट की सबसे लोकप्रिय लीग का 12वां सीजन (IPL-12) खत्म हो गया. अब क्रिकेटप्रेमियों का फोकस आईपीएल से वर्ल्ड कप (World Cup 2019) पर हो गया है. सभी जानना चाह रहे हैं कि विश्व कप के लिए उनकी पसंदीदा टीमों की तैयारियां कैसी हैं. अब भारत (Team India) के खिलाड़ियों ने तो पिछले डेढ़ महीने से कोई इंटरनेशनल या प्रैक्टिस मैच खेला नहीं है. ऐसे में उनकी तैयारियों और फॉर्म का अंदाज आईपीएल-12 में प्रदर्शन से ही लगाया जा सकता है. हम यहां उनके इसी प्रदर्शन पर नजर डाल रहे हैं.

आईपीएल-12 के प्रदर्शन की बात करें तो इसकी ट्रॉफी तो उस खिलाड़ी (रोहित शर्मा) ने उठाई, जो भारतीय टीम का उपकप्तान भी है. लेकिन व्यक्तिगत प्रदर्शन के मामले में विदेशी खिलाड़ियों ने बाजी मारी. लीग का सबसे ज्यादा रन बनाने का खिताब ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर (692) रन ले उड़े. वहीं, सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में पहले दो नाम दक्षिण अफ्रीकी रहे. इमरान ताहिर ने 26 विकेट के साथ पर्पल कैप पर कब्जा किया.

राहुल ने बनाए सबसे अधिक रन 
भारतीय क्रिकेटर भले ही ऑरेंज या पर्पल कैप नहीं जीत सके, लेकिन ऐसा भी नहीं है कि उनका प्रदर्शन कमजोर रहा है. केएल राहुल और शिखर धवन ने आईपीएल में इस साल 500 से अधिक रन बनाए. विराट कोहली, रोहित शर्मा और एमएस धोनी ने भी 400 से अधिक रन बनाकर फॉर्म में होने के संकेत दिए.

LEAVE A REPLY