अपने प्लेटफॉर्म पर क्रिप्टोकरंसी आधारित लेनदेन के लिए फेसबुक (Facebook) अपना बिटकॉइन लॉन्च करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है. फेसबुक के 2.38 अरब यूजर्स हैं. द वाल स्ट्रीट जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक इसके लिए दर्जनों वित्तीय कंपनियों और ऑनलाइन मर्चेंट्स की भर्ती कर रहा है.

नई दिल्ली : अपने प्लेटफॉर्म पर क्रिप्टोकरंसी आधारित लेनदेन के लिए फेसबुक (Facebook) अपना बिटकॉइन लॉन्च करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है. फेसबुक के 2.38 अरब यूजर्स हैं. द वाल स्ट्रीट जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक इसके लिए दर्जनों वित्तीय कंपनियों और ऑनलाइन मर्चेंट्स की भर्ती कर रहा है. क्रिप्टोकरंसी आधारित सिस्टम का उपयोग बिटकॉइन की तरह डिजिटल कॉइन के रूप में होगा.

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में यह बात कही
फेसबुक का सिर्फ इतना कहना है कि वह आभासी मुद्रा प्रौद्योगिकी के लिए विभिन्न समाधानों की खोज कर रही है. फेसबुक नेटवर्क को पेश करने के लिए दर्जनों वित्तीय कंपनियों और ऑनलाइन मर्चेंट की भर्ती कर रही है. फेसबुक इस प्रणाली यानी बिटकॉइन की तरह ही डिजिटल कॉइन का उपयोग करेगी लेकिन यह थोड़ा अलग होगा. फेसबुक का लक्ष्य इसके मूल्य के स्थिर रखना होगा. वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में यह बात कही गई है

फेसबुक ने कहा है कि वह ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी की ताकत का उपयोग करने के तरीके खोज रहा है. हार्वर्ड के विधि प्रोफेसर जोनाथन ज्रिटैन को फरवरी में दिए साक्षात्कार में फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मार्क जुकरबर्ग ने कहा था कि वह फेसबुक को ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी में प्रवेश कराने के लिए दिलचस्पी ले रहे हैं.

उनके अनुसार, ब्लॉकचेन यूजर्स को थर्डपार्टी ऐप्स का उपयोग करने के लिए और ज्यादा सशक्त बना सकता है. फेसबुक ने अपने वरिष्ठ इंजीनियरों में से एक इवान चेंग को अपने हाल ही में लॉन्च ब्लॉकचेन विभाग के डायरेक्टर ऑफ इंजीनियरिंग्स के तौर पर प्रोन्नत किया है.

जुकरबर्ग ने ज्रिटैन से कहा था, ‘मैं डीसेंट्रलाइज्ड या ब्लॉकचेन प्रमाणिकता के बारे में सोच रहा हूं. मैंने हालांकि इसे करने का तरीका नहीं निकाला है, लेकिन यह प्रमाणिकता जैसा है और मूल रूप से आपकी जानकारियां और विभिन्न सेवाएं पा रहा है.’

LEAVE A REPLY