ओडिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले यहां पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. खोर्धा मंडल के अध्यक्ष मंगुली जेना को दो बाइक सवारों ने गोली मार दी, भाजपा ने अब इसके विरोध में बंद बुलाया है.

लोकसभा चुनाव की जंग जीतने के लिए नेताओं में जुबानी जंग तो जारी है ही साथ ही राजनीतिक हिंसा के मामले भी सामने आ रहे हैं. ओडिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले यहां पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. खोर्धा मंडल के अध्यक्ष मंगुली जेना को दो बाइक सवारों ने गोली मार दी, भाजपा ने अब इसके विरोध में बंद बुलाया है.

बता दें कि इस बार ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी और बीजू जनता दल के बीच सीधी जंग है. इस बीच राजनीतिक हिंसा की बात सामने आना हैरान करने वाला है.

बीजेपी मंडल अध्यक्ष की हत्या के पीछे क्या मकसद था, इस बारे में अभी तक कुछ स्पष्ट तौर पर नहीं कहा जा सकता. पुलिस इस घटना की जांच में जुट गई है. भाजपा ने सोमवार सुबह 8 से दोपहर 2 बजे तक खोर्धा बंद का आह्वान किया है.

मंगुली जेना पूर्व में बड़ापोखरिया गांव के सरपंच भी रह चुके हैं. उनकी हत्या किए जाने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस स्टेशन पर धरना दिया. जिसके बाद से ही इलाके के हालात संवेदनशील बने हुए हैं. स्थानीय पुलिस ने भी गांव के आसपास फोर्स को तैनात किया है.

बता दें कि 16 अप्रैल को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ओडिशा के भुवनेश्वर में चुनावी सभा को संबोधित करना है. प्रधानमंत्री यहां एयरपोर्ट से लेकर रैली स्थल तक एक बड़ा रोड शो भी करेंगे. भुवनेश्वर खोर्दा जिले में ही आता है.

ओडिशा से पहले पश्चिम बंगाल में भी भारतीय जनता पार्टी के कई कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है. जिसे भारतीय जनता पार्टी चुनावी मुद्दा बनाती रही है. ओडिशा में कुल 21 लोकसभा सीटें हैं, राज्य में इस बार लोकसभा के साथ विधानसभा का भी चुनाव हो रहा है. भाजपा इस बार आक्रामक तरीके से यहां चुनाव लड़ रही है, यही कारण है कि पीएम मोदी, अमित शाह लगातार राज्य के दौरे कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY