विकेट कीपिंग के विकल्प के तौर पर दिनेश कार्तिक को टीम में जगह दी गई है साथ ही युवा खिलाड़ी विजय शंकर को भी इंग्लैंड का टिकट मिल गया है. लेकिन टीम से इतर ऐसे 5 खिलाड़ी हैं जो विश्व कप टीम के दावेदार थे, लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें मौका नहीं दिया.

विश्व कप 2019 के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान हो गया है. मुंबई में बैठक के बाद बीसीसीआई ने 15 सदस्यीय टीम की घोषणा की. इस टीम की कमान विराट कोहली को सौंपी गई है और रोहित शर्मा टीम के उप कप्तान होंगे. इसके अलावा दिनेश कार्तिक को ऋषभ पंत पर तरजीह देते हुए भारतीय स्क्वॉड में जगह दी गई है. युवा ऑलराउंडर विजय शंकर को भी इंग्लैंड का टिकट मिल गया है. इसके साथ ही ऐसे 5 खिलाड़ी हैं, जो विश्व कप टीम के दावेदार माने जा रहे थे, लेकिन उन्हें मौका नहीं मिला.

ऋषभ पंत

विश्व कप के लिए टीम प्रबंधन ने युवा जोश की जगह अनुभव को वरीयता दी है. यही वजह है कि विस्फोटक बल्लेबाज ऋषभ पंत को टीम से बाहर रखा गया है. दिनेश कार्तिक को जब भी मौका मिला है, उन्होंने शानदार प्रदर्शन से टीम प्रबंधन का ध्यान अपनी ओर खींचा है, ऐसे में चयनकर्ताओं ने सिर्फ 5 वनडे मैच का अनुभव रखने वाले पंत को टीम में रखकर कोई रिस्क लेना नहीं चाहा. पंत विस्फोटक बल्लेबाज तो जरूर हैं, लेकिन विश्व कप जैसे बड़े प्लेटफॉर्म में हाई प्रेशर हालात में किसी अनुभवी खिलाड़ी का मैदान पर रहना जरूरी है, ताकि वह मुश्किल स्थिति में भी टीम के जीत दिला सके.

अंबति रायडू

विश्व कप के लिए भारतीय टीम में नंबर 4 के स्थान को लेकर काफी मशक्कत पहले से चल रही थी. इस जगह लिए केदार जाधव, अजिंक्य रहाणे, रायडू और केएल राहुल के बीच रेस लगी थी. लेकिन टीम प्रबंधन और कप्तान ने केदार जाधव को मौका दिया है, बाकी टॉप ऑर्डर में केएल राहुल का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इस टीम में रायडू की जगह जाधव को मौका देने की वजह उनकी गेंदबाजी है, जो कई मौकों पर अलग किस्म की फिरकी से टीम को मुश्किल वक्त में विकेट दिला चुके हैं.

श्रेयस अय्यर

आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी कर रहे युवा खिलाड़ी श्रेयस अय्यर भी विश्व कप टीम के लिए दावेदार माने जा रहे थे. उन्हें कई मौकों पर टीम इंडिया स्क्वॉड में शामिल तो किया गया, लेकिन उन्हें अंतिम-11 में मौका नहीं मिला. इस वजह से वह चयन के हकदार नहीं बन सके.

उमेश यादव

दुनिया के नंबर वन गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर को टीम में जगह मिली है. इसके अलावा तेज गेंदबाजी का जिम्मा मोहम्मद शमी और ऑलराउंटर हार्दिक पंड्या के कंधों पर रहेगा. ऐसे में उमेश यादव का टिकट कट गया है. उमेश को शमी की जगह टीम में लिया जा सकता था, लेकिन टीम प्रबंधन ने इग्लैंड की तेज पिचों के लिए शमी पर भरोसा जताया है.

अंजिक्य रहाणे

रहाणे को भी टीम इंडिया के साथ इंग्लैंड का टिकट नहीं मिल सका है. टीम में अंदर-बाहर रहने वाले अंजिक्य रहाणे का बल्ला काफी दिनों से शांत था और उन्होंने आखिरी वनडे शतक 2017 की शुरुआत वेस्टइंडीज के खिलाफ जड़ा था. उसके बाद उन्होंने 15 मैच खेले, लेकिन उनके बल्ले से सिर्फ अर्धशतक निकला. उनकी जगह विजय शंकर को मौका दिया गया है जो टीम की जरूरत के हिसाब से गेंदबाजी भी कर सकते हैं. यह युवा बल्लेबाज IPL में गेंद और बल्ले दोनों से अपनी टीम के लिए योगदान दे रहा है.

भारतीय टीम

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप कप्तान), शिखर धवन, केएल राहुल, विजय शंकर, एमएस धोनी (विकेटकीपर), केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पंड्या, मो. शमी, रवींद्र जडेजा.

LEAVE A REPLY