साहिबाबाद इलाके में पुलिस को एक शातिर बदमाश के आने की सूचना मिली थी. गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी करते हुए अनूप नाम के बदमाश को घेर लिया जिसके बाद बदमाश द्वारा पुलिस पार्टी पर फायरिंग की गई और पुलिस की जवाबी फायरिंग में बदमाश के पैर में गोली लगी है.

गाजियाबाद में एक हफ्ते में चौथी बार बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई है. बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड़ साहिबाबाद के करहेड़ा इलाके में हुई, जहां सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि अनूप नाम का क्रिमिनल अपने साथी के साथ जा रहा है. तुलसी निकेतन इलाके से पुलिस उसका पीछा कर रही थी जब पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसने पुलिस पर ही फायरिंग कर दी.

जवाबी फायरिंग में बदमाश अनूप के पैर में गोली लग गई. इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया जबकि उसका एक साथी फरार होने में कामयाब हो गया. पुलिस ने उसके पास से एक बाइक और अवैध हथियार बरामद किए हैं.

पुलिस का दावा है कि अनूप पर दिल्ली और गाजियाबाद में 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे. इनमें हत्या और गोली चलाने के मुकदमे भी शामिल हैं. इसके अलावा वह एक बड़ा शराब माफिया है जो दिल्ली एनसीआर में शराब की बड़ी खेप अवैध रूप से सप्लाई किया करता था. वो लोकसभा चुनाव से पहले शराब की बड़ी खेप लाने की फिराक में था जिसकी डील के लिए वह गाजियाबाद आया था.

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि साहिबाबाद इलाके में पुलिस को एक शातिर बदमाश के आने की सूचना मिली थी. गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी करते हुए अनूप नाम के बदमाश को घेर लिया जिसके बाद बदमाश द्वारा पुलिस पार्टी पर फायरिंग की गई और पुलिस की जवाबी फायरिंग में बदमाश के पैर में गोली लगी है. घायल बदमाश को गाजियाबाद के जिला एम एम जी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बता दें कि इस हफ्ते पुलिस ने चार एनकाउंटर किए हैं. पुलिस का ‘ऑपरेशन लंगड़ा’ लगातार जारी है क्योंकि बदमाश के पैरों में गोली मारकर पुलिस अब लगातार बदमाशों को पकड़ रही है और गाजियाबाद में लगातार एनकाउंटर कर पुलिस ने बदमाशों को साफ चेतावनी दे दी है कि अगर बदमाश नहीं सुधरेंगे और अपराध करेंगे तो गोली का शिकार होंगे.

LEAVE A REPLY