अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने स्टेट ऑफ दि यूनियन भाषण में एक बार फिर कहा कि मेक्सिको सीमा पर दीवार अमेरिका के लिए बेहद जरूरी है, क्योंकि इससे सीमा पार से गैरकानूनी अप्रवासियों और ड्रग्स की तस्करी को रोकने में बड़ी मदद मिलेगी.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने स्टेट ऑफ दि यूनियन भाषण में एक बार फिर कहा कि वो अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. अमेरिकी कांग्रेस के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में बोलते हुए ट्रंप ने कहा कि यह दीवार अमेरिका के लिए बेहद जरूरी है, क्योंकि इससे सीमा पार से गैरकानूनी अप्रवासियों और ड्रग्स की तस्करी को रोकने में बड़ी मदद मिलेगी.

राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने कार्यकाल का दूसरा स्टेट ऑफ दि नेशन भाषण दिया. ट्रंप ने कहा कि गैरकानूनी अप्रवासियों का अमेरिका आना एक बड़ी राष्ट्रीय समस्या है. हालांकि ट्रंप ने दीवार की फंडिंग का रास्ता आसान करने के लिए इसे बॉर्डर इमरजेंसी नहीं कहा. ट्रंप ने दोनों डेमोक्रैट और रिपब्लिकन पार्टी से अपील की कि वो 15 फरवरी तक सुलह करते हुए मामले का हल निकालने का काम करें.

गौरतलब है कि बीते हफ्ते कांग्रेस में दीवार की फंडिंग के ट्रंप के प्रस्ताव के विरोध में अमेरिकी इतिहास का 35 दिन लंबा शटडाउन समाप्त हुआ. कांग्रेस के ज्यादातर सदस्य मेक्सिको बॉर्डर पर दीवार बनाने के लिए फंडिंग के प्रस्ताव का विरोध कर रहे हैं. वहीं ट्रंप अपने इस चुनावी वादे को पूरा करने के लिए किसी हद तक जानें की बात कर रहे हैं. वहीं विपक्षी डेमोक्रैट पार्टी की दलील है कि दीवार बनाना सिर्फ पैसा बर्बाद करना है और इससे न तो गैरकानूनी अप्रवासियों को रोका जा सकता है और न ही ड्रग्स की तस्करी पर लगाम लगाने में यह कारगर साबित होगी.

मेक्सिको सीमा पर दीवार के अलावा अपने स्टेट ऑफ दि नेशन भाषण में ट्रंप ने डेमोक्रैट पार्टी को दलगत राजनीति से ऊपर उठकर उनके खिलाफ जांच की प्रक्रिया को बंद करने की अपील की. ट्रंप ने कहा कि यह जांच पूरी तरह से बेहुनियाद है और इससे अमेरिकी अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान पहुंच सकता है.

ट्रंप ने कहा कि उनकी नीतियों से अमेरिकी अर्थव्यवस्था में जादुई परिवर्तन देखने को मिल रहा है. ट्रंप के मुताबिक इस परिवर्तन को गलत युद्ध, राजनीति और बेबुनियाद जांच से नुकसान पहुंचेगा लिहाजा देश की राजनीति को अमेरिकी हितों के लिए अहम मुद्दों पर एकमत होकर अमेरिका की तरक्की का रास्ता साफ करने की जरूरत है.

गौरतलब है कि कांग्रेस में विपक्षी डेमोक्रैट पार्टी का बहुमत है और विपक्ष ने ट्रंप प्रसाशन के खिलाफ कई मामलों में जांच की प्रक्रिया शुरू की है. इसके अलावा राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ 2016 के राष्ट्रपति चनावों में रूस के साथ सांठगांठ करने के आरोपों की जांच भी स्पेशल प्रोजीक्यूटर द्वारा की जा रही है. हालांकि मामले में रूस साफ कर चुका है कि उसने अमेरिकी चुनावों में दख्लंदाजी नहीं की और ट्रंप ने सांठगांठ के आरोपों से इंकार किया है.

LEAVE A REPLY