राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज कहा कि ऑडिया टेप बिल्कुल सही है. अगर उन्हें राजस्थान सरकार की जांच पर विश्वास नहीं है तो हम जांच के लिए सैंपल अमेरिका भेज देंगे.

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज एक बार फिर मोदी सरकार को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि राज्य में पड़ रहे केंद्रीय एजेंसियों के छापों से वे घबराने वाले नहीं हैं और न ही उनका मिशन रुकेगा. उन्होंने केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता गजेंद्र सिंह शेखावत के कथित ऑडियो टेप को लेकर कहा कि अगर झूठ है तो वे सामने आकर वॉइस सैंपल दें. ऑडियो टेप की हकीकत सामने आ जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि हम अमेरिका भेजकर ऑडियो की जांच करा सकते हैं.

 

गहलोत ने कहा, ”ऑडिया टेप बिल्कुल सही है. हम जांच के लिए अमेरिका भेज देंगे. अगर उन्हें राजस्थान सरकार की जांच पर विश्वास नहीं है, हमें दिल्ली की सरकार पर विश्वास नहीं है तो अमेरिका की एजेंसी एसएफएल से जांच करा लेंगे. वॉइस टेस्ट सैंपल क्यों नहीं दे रहे हैं? आगे आकर उन्हें जांच करवानी चाहिए.”

 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक सवाल के जवाब में कहा, ”छापों से न हम घबराने वाले हैं … न हमारा मिशन रुकने वाला हैं. बीजेपी की नीतियां व कार्यक्रम हो या सिद्धांत देश का बर्बाद करने वाले हैं. ये फासीवादी लोग हैं, लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं.’

 

बता दें कि कि प्रवर्तन एजेंसी (ईडी) ने हाल ही में अशोक गहलोत के करीबी माने जाने वाले कई लोगों के प्रतिष्ठानों व परिसरों पर छापे मारे हैं. निदेशालय ने बुधवार को गहलोत के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत के घर पर भी छापे मारे.

 

गहलोत ने कहा,”ईडी (प्रवर्तन एजेंसी) की कार्रवाई हो, आयकर विभाग की हो या सीबीआई की हो. छह साल से लगातार मैं खुद बोल रहा हूं, पूरा देश बोल रहा है कि जिस प्रकार से कार्रवाइयां शुरू हुई हैं नरेंद्र मोदी के राज में, अमित शाह के इशारे पर … सीबीआई, ईडी, सबको मालूम है …..इस रूप में काम कर रही हैं. यह कोई नयी बात नहीं है.”

 

मुख्यमंत्री ने कहा,”एक जमाने में छापा पड़ने के बाद पता चलता था कि छापा पड़ गया है. अब हालात यह है कि तीन चार दिन पहले ही शहरों में खबर हो जाती है कि छापे पड़ने वाले हैं. अब उसी रूप में छापे पड़ रहे हैं.”

 

मुख्यमंत्री ने कहा, ”इसका मुकाबला करने का दमखम आज भी केवल कांग्रेस में है. इसमें कोई दो राय नहीं कि यह 54 या 44 पर आ गयी, लेकिन जो लोग समझदार हैं चाहे वह भाजपा के या किसी और पार्टी के, वे भी जानते हैं कि कांग्रेस एक मजबूत दल के रूप में रहनी चाहिए. सरकारें आती हैं, जाती हैं पर कांग्रेस की मजबूती देश की मजबूती है. ये सोच के हम राजनीति कर रहे हैं. उसी मजबूती से कांग्रेस आगे बढ़ रही है. ”

 

‘हमारे पास बहुमत है’

 

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ”हमारे पास पूरा बहुमत है. उसी बहुमत के आधार में सदन में जाएंगे और बहुमत साबित करके दिखाएंगे.” गहलोत ने हालांकि यह स्पष्ट नहीं किया कि क्या सरकार बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएगी.

 

उन्होंने यह जरूर उम्मीद जताई कि असंतुष्ट सचिन पायलट खेमे के कुछ विधायक भी सदन में उनका साथ देंगे. गहलोत ने कहा,”हमें उम्मीद है कि जिन लोगों को (पायलट खेमे ने) बंधक बना रखा हैं उनमें से कई लोग जब यहां आएंगे तो हमारे साथ वोट करेंगे.”

LEAVE A REPLY